Wednesday, May 31, 2023
Homeउज्जैन एक्टिविटीदर्शकों को गुदगुदाया मियां की जूती मियां के सर ने

दर्शकों को गुदगुदाया मियां की जूती मियां के सर ने

उज्जैन। कालिदास अकादमी के सभागृह में फ्रांस के मशहूर नाटककार मोलियर द्वारा रचित और टीएन कोहली का अनुवाद शरद शर्मा का प्रस्तुति आलेख और निर्देशन मियां की जूती मियां के सर का मंचन अभिनव रंगमंडल द्वारा किया गया।

नाटक पूरी तरह हास्य और व्यंग्य पर आधारित था, नाटक का आरंभ ही नाटक के मुख्य पात्र मिर्जा बर्बाद के व्यंग्यात्मक लंबे संवाद से होता है। आरंभ से अंत तक लोग नाटक में ठहाके लगाते रहे।

मिर्जा साहब बुढ़ापे में अपने से 2 गुना कम उम्र की लड़की से शादी कर लेते हैं जिसका मोहल्ले के एक लड़के से प्रेम हो जाता है मिर्जा साहब को जब पता चलता है क्योंकि युवा पत्नी मोहल्ले के लड़के से प्रेम कर रही है तो वह अपने ससुर से इसकी शिकायत करते हैं लेकिन लड़की अपनी चालाकी से हर बार मिर्जा को गलत साबित कर देती है और इन्हीं स्थितियों से हास्य पैदा होता है।

मिर्जा के रूप में वीरेंद्र थाने और घर पकड़ अली के रूप में अजय गोस्वामी ने अपने नियंत्रित अभिनय से नाटक में रोचकता बनाए रखी।

घर बिगाड़ खाकी भूमिका में अनिकेत पटेल और भंडाफोड़ जाफरी की भूमिका में संजय शर्मा ने अपनी क्षमता का परिचय दिया, दिलजान और उलझन की भूमिका में कृति जनवदे और यासमीन सिद्धिकी ने अपनी अभिनय क्षमता का भरपूर इस्तेमाल किया।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर

error: Alert: Content selection is disabled!!