Wednesday, May 18, 2022
Homeउज्जैनदीपावली के पहले 150 लोगों को मिलेगा गुम मोबाइलों का तोहफा

दीपावली के पहले 150 लोगों को मिलेगा गुम मोबाइलों का तोहफा

उज्जैन पुलिस की सायबर सेल ने 6 माह की पड़ताल के बाद तलाशे थे

उज्जैन। लोगों के मोबाइल गुम होने या चोरी होने की स्थिति में पुलिस द्वारा तुरंत एफआईआर दर्ज नहीं की जाती बल्कि थाने पर पुलिस द्वारा आवेदन लेकर जांच की बात कही जाती है। ऐसे आवेदनों की जांच पुलिस विभाग की सायबर सेल द्वारा की जाकर गुम मोबाइल तलाश कर उसके मालिकों को लौटाए भी जाते हैं। इसी कड़ी में आज कंट्रोल रूम पर 150 लोगों को उनके गुम मोबाइल लौटाए जाएंगे।

vinayaakk

मोबाइल आज के समय में हर व्यक्ति के लिए दिनचर्या का जरूरी हिस्सा बन चुका है। लोग सस्ते कीपेड मोबाइल से लेकर हजारों रुपये कीमत के मोबाइल अपने पास रखते हैं, लेकिन भीड़ भरे क्षेत्र हों या लापरवाही मोबाइल गुम होने और चोरी होने की घटनाएं प्रतिदिन होती हैं। मोबाइल गुम या चोरी होने पर लोग थाने पर शिकायती आवेदन देते हैं ताकि मोबाइल का गलत उपयोग न हो और उसमें लगी सिम के नंबर पुन: कंपनी से प्राप्त कर पाएं। पुलिस विभाग की सायबर सेल द्वारा थाने से मिलने वाले गुम मोबाइलों के आवेदनों की जांच के अलावा मोबाइलों की तलाश भी की जाती है।

ट्रेकिंग पर लगाते ही मिलती है लोकेशन: सायबर सेल की टीम द्वारा उनके पास उपलब्ध कम्प्यूटर व सॉफ्टवेयर की मदद से गुम या चोरी हुए मोबाइल के आईएमईआई व सिम के नंबरों को ट्रेकिंग पर लगाया जाता है। जिस व्यक्ति द्वारा मोबाइल को स्वीच ऑन किया जाता है उसकी लोकेशन सायबर सेल को मिलती है और पुलिस टीम द्वारा मोबाइल चलाने वाले व्यक्ति को पकड़कर उससे मोबाइल जब्त किया जाता है।

पुलिस ने 150 मोबाइल तलाशे : सायबर सेल की टीम ने अब तक 150 के करीब गुम या चोरी हुए मोबाइल बरामद किये हैं जिनकी पहचान के लिये उनके मालिकों को फोन पर सूचना देकर कंट्रोल रूम बुलाया गया। मोबाइल के बिल आदि की जानकारी लेकर उन्हें आज दोपहर 12.30 बजे मोबाइल लेने के लिये बुलाया गया है।

आवेदन में पता व दूसरा मोबाइल नंबर अवश्य दें

मोबाइल चोरी या गुम होने की स्थिति में लोगों द्वारा थाने पर शिकायती आवेदन पत्र दिया जाता है जिसमें कई लोग अपना स्पष्ट पता अथवा संपर्क के लिए दूसरा मोबाइल नंबर नहीं देते इस कारण मोबाइल मिलने के बाद पुलिस को उसके मालिक की तलाश करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। पुलिस अफसरों ने कहा कि शिकायती आवेदन में लोग अपना पता व संपर्क के लिए दूसरा मोबाइल नंबर अवश्य दें।

लोगों से मोबाइलों की पहचान कराई
पुलिस की सायबर सेल टीम द्वारा गुम या चोरी हुए मोबाइलों की ट्रेकिंग के आधार पर लगातार तलाश की जाती है। पिछले 6 माह से अधिक समय से सायबर सेल की टीम द्वारा मोबाइल जब्त किए गए जिन्हें आज दोपहर कंट्रोल रूम पर मोबाइल मालिकों को दीपावली के पहले तोहफे के रूप में लौटाए जाएंगे। जब्त मोबाइलों की उनके मालिकों से पहचान करा ली गई है।-अमरेन्द्र सिंह, एएसपी सिटी

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर