Tuesday, May 17, 2022
Homeदेशदेश में 3 जनवरी से शुरू होगा बच्चों के लिए Vaccinations

देश में 3 जनवरी से शुरू होगा बच्चों के लिए Vaccinations

3 जनवरी 2022 से 15 से 18 साल के उम्र को लगेगी वैक्सीन

10 जनवरी से बुजुर्गों, फ्रंटलाइन वर्कर्स को दी जाएगी प्रीकॉशन्स डोज

 

पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में देश को क्रिसमस की बधाई दी. पीएम मोदी ने कहा कि ये समय सचेत रहने का भी है. पीएम मोदी ने कहा कि आज पूरी दुनिया में ओमिक्रो का संक्रमण बढ़ रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि इस समय पैनिक न करें. सावधान रहें, शतर्क रहें. मास्क का भरपूर उपयोग करें और हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धुलना हमें भूलना नहीं है.

पीएम मोदी ने देश के नाम संबोधन में शनिवार रात तीन बड़े ऐलान किए। इसके तहत 15 साल से 18 साल के बच्चों को 3 जनवरी (सोमवार) 2022 से कोरोना का टीका लगाया जाएगा। पीएम मोदी ने इसके साथ ही हेल्थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स के लिए बूस्टर डोज की घोषणा कर दी है। पीएम मोदी ने कहा कि 60 साल से अधिक उम्र के उन लोगों को भी बूस्टर डोज दिया जाएगा जो दूसरी गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं। 

15-18 साल तक के बच्चों को टीका

पीएम मोदी ने बच्चों के टीकाकरण का ऐलान करते हुए कहा कि यह देश की लड़ाई को तो मजबूत करेगा ही स्कूल कॉलेज में जा रहे हमारे बच्चों और उनके माता-पिता की चिंता दूर करेगा। पीएम मोदी ने कहा, ”15 साल से 18 साल की आयु के बीच के जो बच्चे हैं, अब उनके लिए देश में वैक्सीनेशन प्रारंभ होगा। 2022 में, 3 जनवरी को, सोमवार के दिन से इसकी शुरुआत की जाएगी।”

हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को 10 जनवरी से बूस्टर डोज

हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए बूस्टर डोज का ऐलान करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ”हम सबका अनुभव है कि जो कॉरोना वॉरियर्स हैं, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स हैं, इस लड़ाई में देश को सुरक्षित रखने में उनका बहुत बड़ा योगदान है। वो आज भी कोरोना के मरीजों की सेवा में अपना बहुत समय बिताते हैं। इसलिए एहतियात के तौर पर सरकार ने निर्णय लिया है कि हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की Precaution Dose (बूस्टर डोज) भी प्रारंभ की जाएगी। इसकी शुरुआत 2022 में, 10 जनवरी, सोमवार के दिन से की जाएगी।

कॉ-मॉरबिडिटी वाले बुजुर्गों को भी 10 जनवरी से बूस्टर डोज

पीएम मोदी ने कहा दूसरी बीमारियों से ग्रसित बुजुर्गों के लिए भी बूस्टर डोज की घोषणा की है। पीएम मोदी ने कहा, ”60 वर्ष से ऊपर की आयु के कॉ-मॉरबिडिटी वाले नागरिकों को, उनके डॉक्टर की सलाह पर वैक्सीन की Precaution Dose का विकल्प उनके लिए भी उपलब्ध होगा। यह भी 10 जनवरी से उपलब्ध होगा।”

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर