Wednesday, May 18, 2022
Homeधर्मं/ज्योतिषनवरात्रि के दौरान गलती से भी न करें ये काम

नवरात्रि के दौरान गलती से भी न करें ये काम

हिंदू पंचांग के अनुसार चैत्र माह की शुरुआत हो चुकी है और इसी महीने सबसे धर्मिक पर्व चैत्र नवरात्रि पड़ती है। नवरात्रि का महापर्व देश भर में काफी धूम-धाम से मनाया जाता है। इस साल नवरात्रि का ये पावन पर्व 2 अप्रैल, 2022 से 11 अप्रैल तक मनाया जाएगा। नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है। मां दुर्गा को सुख, समृद्धि और धन की देवी कहा जाता है।

धार्मिक मान्यता है कि नवरात्रि के दौरान पूरी श्रद्धा से मां दुर्गा की पूजा-अर्चना करने से वो अपने भक्तों पर प्रसन्न होती हैं। साथ ही उनकी सारी मनोकामनाएं भी पूरी करती हैं। लेकिन कुछ ऐसे काम हैं, जिन्हें नवरात्रि के दौरान न करने की सलाह दी जाती है। मान्यता है कि ऐसा करने से जातकों पर उसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। आइए जानते हैं चैत्र नवरात्रि के दौरान कौन-कौन से काम नहीं करने चाहिए…

1. नाखून काटना
नवरात्रि के 9 दिनों के दौरान नाखून काटने (nail biting) की मनाही होती है. आपने देखा भी होगा कि कई लोग नवरात्रि शुरू होने के पहले ही नाखून काट लेते हैं, ताकि 9 दिनों में नाखून काटने की जरूरत न पड़े. कहा जाता है कि ऐसा करने से देवी क्रोधित हो जाती हैं और फिर उनके क्रोध का सामना करना पड़ता है. इसलिए ऐसा करने से बचें.

2. बाल कटवाना
नवरात्रि के दौरान कटिंग और शेविंग (cutting and shaving) कराने से बचें. कहा जाता है कि नवरात्रि के दौरान बाल कटवाने से भविष्‍य में सफल होने की संभावना कम हो जाती हैं. इसलिए 9 दिनों तक बाल और बियर्ड कटवाने से बचें.

3. नॉनवेज खाना
9 दिनों में देवी दुर्गा के अलग-अलग रूपों की पूजा होती है. इन 9 दिनों तक देवी भक्त उपवास रखते हैं और देवी की पूजा करते हैं. इसलिए नवरात्रि के दौरान सभी प्रकार के नॉनवेज फूड खाने से बचना चाहिए.

4. प्याज-लहसुन खाना
प्याज और लहसुन, तामसिक भोजन के रूप में आते हैं. तामसिक का मतलब है कि प्याज-लहसुन मन और शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं. माना जाता है कि वे मानसिक थकान का कारण भी बनते हैं. नवरात्रि के दौरान तामसी खाद्य पदार्थों का सेवन करना अच्छा नहीं माना जाता. इसलिए 9 दिनों तक सात्विक भोजन करना चाहिए.

5. शराब का सेवन करना
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, किसी भी पवित्र समारोह या त्योहार के दौरान शराब के सेवन से पूरी तरह बचना चाहिए. चैत्र नवरात्रि देवी मां की आराधना के लिए सबसे पवित्र माने जाते हैं, इसलिए नवरात्रि पूजा के 9 दिनों के दौरान शराब का सेवन नहीं करना चाहिए.

6. लेदर की चीजें पहनना
चमड़े के बेल्ट, जूते, जैकेट, ब्रेसलेट आदि पहनने से बचना चाहिए. इसके पीछे का कारण है कि चमड़ा जानवरों की खाल से बना होता है और इसे अशुभ माना जाता है. इसलिए नवरात्रि में लेदर से बनी चीजों को पहनने से बचना चाहिए.

7. किसी को अपशब्द बोलना
नवरात्रि के दौरान किसी से भी अशुभ या अपशब्द बोलने से बचना चाहिए. इसका कारण है कि नवरात्रि देवी की भक्ति और आराधना करने का समय होता है. अगर इस दौरान गलत शब्दों का प्रयोग करते हैं, तो देवी मां क्रोधित हो सकती हैं. इसलिए ऐसा करने से बचें.

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर