Monday, November 28, 2022
Homeउज्जैन समाचारपटवारी सीमांकन मामले में गड़बड़ी करता है तो तहसीलदार निलंबित होंगे

पटवारी सीमांकन मामले में गड़बड़ी करता है तो तहसीलदार निलंबित होंगे

सभी आवेदन ऑनलाइन लोक सेवा केंद्रों पर लिए जाएं, कलेक्टर सिंह ने दिए निर्देश

उज्जैन। कलेक्टर आशीष सिंह ने राजस्व अधिकारियों की बैठक में जिले के सभी नायब तहसीलदार, तहसीलदार व एसडीएम को हिदायत दी है कि सीमांकन के लिये सभी आवेदन ऑनलाइन लोक सेवा केन्द्रों पर ही लिए जाएं। कोई भी राजस्व अधिकारी या पटवारी ऑफलाइन आवेदन स्वीकार न करें। उन्होंने कहा कि सीमांकन के मामले में गंभीरता से कार्य करना है। यदि कोई पटवारी सीमांकन के मामले में गड़बड़ी करता है तो इसमें तहसीलदार व नायब तहसीलदार की गलती मानकर उन्हें निलंबित किया जायेगा और एसडीएम को शोकाज नोटिस जारी होगा। कलेक्टर ने स्पष्ट रूप से कहा है कि सीमांकन के मामले 30 दिन की समयावधि में हर हाल में निराकृत किए जाएं। बैठक में अपर कलेक्टर अवि प्रसाद, एडीएम संतोष टैगोर, सभी एसडीएम, तहसीलदार व नायब तहसीलदार मौजूद थे।

वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिए

कलेक्टर ने बैठक में कहा कि छह माह से अधिक अवधि के सभी प्रकरण 2 अक्टूबर तक निराकृत किये जायें। इस वित्तीय वर्ष में राजस्व वसूली का लक्ष्य 23 करोड़ निर्धारित है। वर्तमान में की गई वसूली पर कलेक्टर ने असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि वसूली में तेजी लाई जाये। खरीफ फसल कटकर शीघ्र ही मंडियों में पहुंचेगी। तहसीलदार एवं एसडीएम मंडियों पर निरंतर नजर रखें। पीएम किसान योजना के तहत जिले में अपूर्ण 3403 खातों की जानकारी एक सप्ताह में पूर्ण करने के निर्देश राजस्व अधिकारियों को दिये गये।

जरूर पढ़ें
spot_img

मोस्ट पॉपुलर