Thursday, June 30, 2022
Homeकरियरफैशन डिजाइनर बनकर बनाएं अपना करियर

फैशन डिजाइनर बनकर बनाएं अपना करियर

युवा वर्ग में फैशन डिजाइनिंग में करियर बनाने का चार्म बढ़ रहा है  फैशन इंडस्ट्री बहुत तेजी से ग्रो कर रही है. इसके साथ ही इसमें करियर की संभावनाएं भी बढ़ती जा रही हैं (Career In Fashion Designing). अगर आप क्रिएटिव हैं

आपको नए रंग, डिजाइन और स्टाइल लुभाते हैं तो फैशन डिजाइनिंग एक बेहतरीन करियर ऑप्शन साबित हो सकता है (Fashion Designer Skills). भारत के साथ-साथ विदेशों में भी फैशन डिजाइनिंग (Fashion Designing) का व्यापक दायरा है. जानिए इसमें करियर बनाने के मौके.

फैशन डिज़ाइनिंग क्या है?

किसी ग्राहक की विशेष मांग के अनुसार वस्त्र, जीवनशैली और सम्पूर्ण लुक को बनाने में जुड़े सामान को डिज़ाइन करना उसे एक क्रिएटिव लुक देने की कला को फैशन डिज़ाइनिंग कहते हैं। इस कला को समय के साथ एक उभरते हुए प्रोफेशन का रूप दिया गया है। यह पेशा रचनात्मक होने के साथ-साथ शोबिज़ से भरे क्षेत्र में अच्छा वेतन भी प्रदान करता है।

हालांकि, यह क्षेत्र एक रचनात्मक क्षेत्र होने के साथ साथ एक ज़िम्मेदारी का काम भी है जिसमें आपको नियमित तौर पे मार्किट रिसर्च और समय के अनुसार चलना आना चाहिए। इसमें प्रवेश करने वाले हर एक इंसान में क्रिएटिव स्किल्स के साथ मैनेजमेंट के गुण होना भी अनिवार्य है। अगर आप साइज़ , डिज़ाइन , कट्स , शेड्स व टेक्सटाइल का इस्तेमाल करके कुछ आकर्षक बनाने की क्षमता रखते हैं, तो आप एक सफल fashion designer बन सकते हैं।

ऐसे स्टूडेंट्स कर सकते है फैशन डिजाइनिंग

फैशन डिजाइनिंग कोर्स करने वाले स्टूडेंट की पहली योग्यता उसमें क्रिएटिविटी का होना है। इसमें डिजाइनिंग करने वालों को रंगों और डिजाइन के साथ हमेशा कुछ न कुछ नया एक्सपेरिमेंट करना होता है।

क्रिएटिविटी के साथ ही अच्छी कम्युनिकेशन स्किल भी डेवलप करनी होती है। इसके लिए फैशन जगत से रूबरू होना पड़ता है जिसके अनुसार फैशन डिजाइनर अपने डिजाइंस मार्केट में उतारता है।

ज़िम्मेदारियां

  • मार्किट रिसर्च , पॉप्युलर व फैशन में चल रहे कपड़े, तरीके व डिज़ाइन से मोटिवेशन लेने की प्रक्रिया से जुड़ना।
  • मार्किट में मौजूद डिज़ाइन को और बेहतर बनाना व नए डिज़ाइन बनाना।
  • डिज़ाइन के आधार पर सही कपड़े का सिलेक्शन करना।
  • विशेष मांग पर तैयार होने वाले पैकेजेस के डिज़ाइन तैयार करना।
  • प्रस्तुत करने से पहले प्रोडक्ट या पैकेज की थीम, स्टोरी व सीज़न को ग्राहक के सामने प्रस्तुत करना।

योग्यता

  • डिप्लोमा कोर्सेज़ करने के लिए कैंडिडेट ने किसी भी मान्य बोर्ड से 10th पास की हो।
  • बैचलरस करने के उम्मीदवार का किसी भी मान्य बोर्ड से 10+2 (किसी भी स्ट्रीम से ) पास होना अनिवार्य है।
  • मास्टर्स करने के लिए कैंडिडेट ने किसी भी मान्य यूनिवर्सिटी से बैचलर की डिग्री प्राप्त की हो

यहां से करें फैशन डिजाइनिंग का कोर्स

  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (NID)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIFT
  • पर्ल एकेडमी ऑफ फैशन (PAF
  • सिम्बोयसिस सेंटर ऑफ डिजाइन (SID)
  • नॉर्दन इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIIFT)
  • एसएनडीटी प्रेमलीला विठ्ठलदास पॉलिटेक्निक
जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर