Tuesday, May 17, 2022
Homeउज्जैन एक्टिविटीबिजली देने के लिए 6.84 करोड़ की प्लानिंग

बिजली देने के लिए 6.84 करोड़ की प्लानिंग

नवीन उपकेन्द्रों और पॉवर ट्रांसफार्मर स्वीकृत

उज्जैन। किसानों को आगामी रबी सीजन में सतत् विद्युत आपूर्ति करने के लिए पश्चिम क्षेत्र विद्युत कंपनी ने व्यापक कार्ययोजना तैयार की है। इसके तहत जिले में 6.84 करोड़ की लागत से उपकेंद्रों के निर्माण करने के साथ ही पावर ट्रांसफार्मर लगाए जाएंगे। संबंधित अधिकारियों को इस प्लानिंग का शीघ्रता से क्रियान्वयन करने के निर्देश दिए
गए है।

पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों के अनुसार उक्त उपकेन्द्रों की स्थापना से जिले के विभिन्न क्षेत्रों के किसानों एवं आमजन को गुणवत्तापूर्वक विद्युत आपूर्ति हो सकेगी। रबी सीजन में कृषि कार्य करने के लिए निर्बाध विद्युत प्रदाय प्राप्त होगा। आसपास के अन्य फीडर के उपभोक्ताओं का लोड़ कम हो जाएगा। इससे क्षेत्र में सिंचाई पंपों को पर्याप्त बिजली मिलने से कृषि उत्पादन में वृद्धि के साथ ही क्षेत्र विकास की मुख्य धारा में जुड़ जायेगा। उल्लेखनीय है कि मालवा निमाड़ क्षेत्र के 15 जिलों में से उज्जैन जिले के लिए सर्वाधिक राशि के कार्य स्वीकृत किये गये हैं।

आगामी रबी सीजन को ध्यान में रखते हुए म.प्र.प.क्षे विद्युत वितरण कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों ने आकस्मिक बैठक बुलाकर निर्देश दिये कि उज्जैन जिले में 33.11 केवी अतिभारित उपकेन्द्रों और नवीन उपकेन्द्रों की क्षमता वृद्धि के लिये विभिन्न तहसीलों में छह करोड़ 84 लाख रुपये की लागत से उपकेन्द्र स्थापित किजए जाएंगे। 33.11 केवी उपकेंद्र जगोटी, चिकली एवं आक्या जागीर में 3.15 एमव्हीए, से 5 एमव्हीए की क्षमता वृद्धि, 33.11 उपकेन्द्र ताजपुर में 5 एमव्हीए से 8 एमव्हीए की क्षमता वृद्धि, 33.11 केवी उपकेन्द्र रुदाहेड़ा, खामली, सादला एवं गोगापुर में 3.15 एमव्हीए अतिरिक्त पॉवर ट्रांसफार्मर स्थापित करने के लिए कार्य स्वीकृत किये गये हैं।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर