Friday, May 27, 2022
Homeउज्जैनमहिला से मारपीट के बाद उज्जैन रेलवे स्टेशन पार्किंग का ठेका किया...

महिला से मारपीट के बाद उज्जैन रेलवे स्टेशन पार्किंग का ठेका किया निलंबित

मौखिक तौर पर हो चुकी है ठेकेदार की सैकड़ों शिकायतें…

उज्जैन।आखिरकार रेलवे स्टेशन पार्किंग का ठेका निलंबित कर दिया गया हैं। कंपनी को नोटिस जारी कर तलब किया गया हैं। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने की स्थिति में पार्किंग का ठेका निरस्त भी किया जा सकता हैं।

रेलवे स्टेशन पर पार्किंग का ठेका लेने वाली कंपनी के कर्मचारियों ने रविवार को एक महिला बैंककर्मी के साथ मारपीट की थी। इसे लेकर रेलवे ने तत्काल जांच के आदेश जारी किए थे। जांच में ठेकेदार के कर्मचारियों की गलती सामने आई है। इस पर ठेका तत्काल निलंबित कर दिया गया है।

इसके अलावा ठेका लेने वाली दिल्ली की कंपनी के अधिकारियों को भी तलब किया है। रेलवे स्टेशन पर रविवार को रेणुका खानापुरकर निवासी बसंत विहार कालोनी अपने पति कुणाल के साथ कार से भाई-बहन को लेने के लिए आई थी।यहां आरक्षण कार्यालय के समीप कार पार्क करने के दौरान पार्किंग के रुपये को लेकर एक महिला कर्मचारी ने रेणुका व उसके पति के साथ अभद्रता की थी। कर्मचारियों ने दोनों के साथ मारपीट की थी। इस पर जीआरपी ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया था।

जांच में ठेकेदार की गलती, ठेका निलंबित

बताया जाता है कि डीआरएम विनित गुप्ता ने बताया कि मामले की जांच के आदेश स्थानीय अधिकारियों को दिए थे। जांच में ठेकेदार के कर्मचारियों की गलती सामने आई है। इस पर तत्काल ठेका निलंबित कर दिया गया है। ठेका लेने वाली दिल्ली की कंपनी के अधिकारियों को रतलाम बुलाया गया है। कंपनी ने उज्जैन के अलावा इंदौर व अन्य शहरों में भी ठेका लिया है। सभी जगह के कर्मचारियों का तत्काल पुलिस सत्यापन करवाने को कहा गया है।

कई मर्तबा अक्षरविश्व ने उठाया मामला

उज्जैन रेलवे स्टेशन पर पार्किंग ठेकेदार की दादागिरी और गुण्डागर्दी को लेकर अक्षर विश्व द्वारा मामले को उठा कर हर घटना को प्रमुखता से प्रकाशित किया। इसके साथ सोशल मीडिया पर भी ठेकेदार की दादागिरी और गुण्डागर्दी को लेकर नाराजगी सामने आती रही हैं।

दो कर्मचारियों को हटाया

उज्जैन स्टेशन प्रबंधक मुकेश जैन के अनुसार वाहन स्टेण्ड ठेकेदार ने लोगों से अभद्रता व मारपीट करने वाले दोनों कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया है। आगे से लोगों के साथ इस प्रकार की हरकत न हो इसकी चेतावनी भी दी गई है।

इनका कहना

रेलवे चेयरमेन के साथ दौरे पर हूं, इस संबंध में विस्तार से जानकारी बाद में दे पाउंगा। नियम तोडऩे पर ठेकेदार के खिलाफ उचित कार्रवाई प्रस्तावित की गई है।विनित कुमार गुप्ता, डीआरएम

मनमानी को रोकने के लिए ठेके की शर्तों में बदलाव होना चाहिए। अभद्रता-मारपीट करने वालों को ब्लैक लिस्टेड करें।
प्रकाश त्रिवेदी, रेलवे सलाहकार समिति सदस्य

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर