Friday, September 22, 2023
Homeउज्जैन एक्टिविटीमैरिट के आधार पर नियुक्ति नहीं होने से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता नाराज

मैरिट के आधार पर नियुक्ति नहीं होने से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता नाराज

महिला बालविकास विभाग परियोजना अधिकारी पर लगाए अनदेखी के आरोप

अक्षरविश्व न्यूज. उज्जैन .मैरिट के आधार पर नियुक्ति नहीं किये जाने से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं में रोष व्याप्त है। इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी, जिला पंचायत सीईओ, संयुक्त संचालक एवं जनसुनवाई में आवेदन दियेे गए। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होने से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है। उन्होंने महिला बालविकास विभाग परियोजना अधिकारी पर अनदेखी के आरोप भी लगाए।

आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की नियुक्ति के लिए गत वर्ष 24 जनवरी को विज्ञप्ति जारी हुई थी। जिसके आधार पर मैरिट लिस्ट के अनुसार नियुक्ति की जाना थी, लेकिन काफी समय बाद भी मैरिट लिस्ट के आधार पर नियुक्ति नहीं की गई। आंगनवाड़ी कार्यकर्ता निशा सोढ़ावत, निशा मालवीय, दीपा चौहान, सपना, आशा, अलका, यासमीन, जानकी, दीपा, दीपिका, सपना रामेश्वर ने कहा कि उनका नाम भी मैरिट लिस्ट में था इसके बावजूद नियुक्ति नहीं की गई। आंगनवाड़ी केंद्र पानबिहार क्रमांक 3 के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के पद हेतु महिला बाल विकास द्वारा विज्ञप्ति जारी की गई थी।

जिसके अनुसार आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के पद हेतु आवेदन किया गया था। शासन के नियम अनुसार आंगनवाड़ी सहायिका के पद से उन्हीं को पदोन्नत किया जाता है जो उसी के आंगनवाड़ी केंद्र की सहायिका हो एवं उसी वार्ड की निवासी हो। इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी, जिला पंचायत सीईओ, संयुक्त संचालक एवं जनसुनवाई में आवेदन दिये लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने मांग की है कि आंगनवाड़ी केंद्र पानबिहार क्रमांक 3 मेंं मेरिट के आधार पर नियुक्ति के आदेश प्रदान करें।

अधिकारी को हटाने की मांग

दीपिका सोलंकी ने कहा कि वह मैरिट के आधार पर होने वाली इस नियुक्ति के लिए योग्य है। लेकिन महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी घट्टिया द्वारा मुझे इस पद से वंचित कर दिया है। जिस पर अनुपमा मंडावी महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी की शिकायत कलेक्टर, अनुविभागीय अधिकारी, संयुक्त संचालक, जिला पंचायत सीईओ, सीएम हेल्पलाईन, आंगनवाड़ी जिला कार्यालय को करने के बावजूद अब तक समस्या का निराकरण नहीं हुआ। दीपिका सहित 14 अन्य महिलाओं ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से न्याय की गुहार लगाई है तथा अधिकारी अनुपमा मंडावी को निलंबित किये जाने की मांग की।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर