Tuesday, May 17, 2022
Homeउज्जैन एक्टिविटी'सद्भावना और अहिंसा विषय पर व्याख्यान

‘सद्भावना और अहिंसा विषय पर व्याख्यान

सदाचारी गुणों से ही मानवतापूर्ण वातावरण का निर्माण संभव : शास्त्री

उज्जैन। सदाचार और अहिंसा ऐसे महत्वपूर्ण गुण है जो हमे शांतिपूर्ण समाज की ओर ले जा सकते हैँ। वर्तमान में मानवीय गुणों का लोप हो रहा है। हमें मन को पवित्र बनाकर नैतिकता को अपनाना होगा, इसी से सदाचारी गुणों का जन्म होगा। सदाचारी गुणों से ही मानवतापूर्ण वातावरण बनना संभव है।

उक्त विचार सोलापुर महाराष्ट्र के साहित्यकार सुभाष शास्त्री ने भारतीय ज्ञानपीठ द्वारा आयोजित पद्मभूषण डॉ. शिवमंगल सुमन स्मृति नवदश अखिल भारतीय सद्भावना व्याख्यानमाला के चतुर्थ दिवस व्यक्त किए। सद्भावना और अहिंसा विषय पर ऑनलाइन व्याख्यान प्रस्तुत किा। अध्यक्षता करते हुए विक्रम विवि के कुलसचिव डॉ. प्रशांत पुराणिक ने कहा कि शांति और सद्भाव किसी भी देश की बुनियादी आवश्यकता है। यदि मानव मन में शांति होगी तो सम्पूर्ण समाज भी शांतिपूर्ण होगा। इस तरह यह शांति विश्वशांति के रूप में परिवर्तित हो जायेगी।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर