Monday, November 28, 2022
HomeकरियरAgriculture Research Scientist बनकर बनाएं अपना करियर

Agriculture Research Scientist बनकर बनाएं अपना करियर

आज के समय भारत में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है। जिस वजह से लोगो की रुचि कृषि कार्यो की और अधिक बढ़ रही है। कृषि के क्षेत्र में करियर बनाना किसी भी व्यक्ति के लिए एक बढिय़ा और लाभदायक विकल्प है। क्योकि कृषि में भी करियर बनाने के कई विकल्प मौजूद है। इसमें आप एग्रीकल्चर ऑफिसर, फ़ूड सेफ्टी ऑफिसर, एग्रीकल्चर साइंटिस्ट और एग्रीकल्चरल साइंटिस्ट जैसे पद पर कार्य कर सकते है। इसके अलावा आप कृषि कार्यो को करके भी रोजगार पा सकते है।

कृषि वैज्ञानिक प्रयोगशालाओं या क्षेत्र में रिसर्च कर कृषि प्रथाओं को बेहतर बनाने में सहायता प्रदान करता है। इन्हे ही एग्रीकल्चर रिसर्च साइंटिस्ट के नाम से पुकारा जाता है। इन वैज्ञानिको का कार्य नए खाद उत्पादों को विकसित करना, सुरक्षित खाद्य वितरण प्रणाली तैयार करना, मिट्टी की गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए खोज करना। इसके अलावा कृषि वैज्ञानिक निजी उद्योग में भी काम कर सकते है, तथा विश्वविद्यालय या सरकार के लिए रिसर्च का कार्य भी कर सकते है।

योग्यता

कृषि वैज्ञानिक बनने के लिए सबसे पहले आपको इंटर की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है। इसके बाद आप BSC. एग्रीकल्चर या BSC. एग्रीकल्चर में प्रवेश लेकर एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग, फ़ूड साइंस, होम साइंस, वेटनेरी साइंस, हॉर्टिकल्चर, एग्रीकल्चर और फॉरेस्ट्री में से किसी एक विषय को चुन सकते है। इसमें में से विषय को चुनकर डिग्री प्राप्त कर ले फिर इसी क्षेत्र से परास्नातक कोर्स करने के लिए प्रवेश ले। परास्नातक करने के पश्चात् आपको पी.एच.डी करना होता है।, जिसके बाद आपको कृषि वैज्ञानिक बनने के लिए अनुसंधान केंद्र से जुडऩा होता है।

  • कृषि विज्ञान
  • संयंत्र जैव रसायन
  • कृषि इंजीनियरिंग
  • पादप जैव प्रौद्योगिकी के सिद्धांत
  • कृषि कीट विज्ञान
  • कृषि विपणन व्यापार और मूल्य
  • डेयरी और खाद्य इंजीनियरिंग
  • वाटरशेड जल विज्ञान
  • प्रणाली अभियांत्रिकी
  • जलाशय और फार्म तालाब डिजाइन
  • पर्यावरण इंजीनियरिंग
  • सिंचाई और जल निकासी इंजीनियरिंग
  • फसल उत्पादन प्राद्यौगिकी
  • भू-जल कुंवा और पंप
  • खाद्य पैकिंग प्राद्यौगिकी
  • ग्रीन हाउस डिजाइन और रखरखाव
  • वाटरशेड और योजना प्रबंधन
  • पर्यावरण अध्ययन
  • मशीनों का सिद्धांत
  • फसल प्रक्रिया सुखाने और भंडारण इंजीनियरिंग
  • कृषि मशीनरी और उपकरण
  • मृदा और द्रव यांत्रिकी
  • तकनीकी अंग्रेजी संचार
  • हाइड्रोलिक ड्राइव और नियंत्रण
  • कृषि शक्ति और मशीनरी प्रबंधन
  • कृषि मशीनरी उत्पादन तकनीक
  • कृषि अर्थव्यवस्था

कोर्स

  • बीएससी एग्रीकल्चर
  • बीएससी क्रॉप फिजियोलॉजी
  • एमएससी एग्रीकल्चर
  • एमएससी
  • एमबीए इन अग्रि-बिजऩेस मैनेजमेंट
  • डिप्लोमा इन फ़ूड प्रोसेसिंग
  • डिप्लोमा कोर्स इन एग्रीकल्चर & अलाइड प्रैक्टिसेज

कृषि वैज्ञानिक कॉलेज

  • आचार्य एन.जी. रंगा कृषि विश्वविद्यालय, हैदराबाद, आंध्र प्रदेश
  • कृषि विश्वविद्यालय, उदयपु
  • आणन्द, कृषि विश्वविद्यालय आणन्द, गुजरात
  • असम कृषि विश्वविद्यालय, जोरहाट, असम
  • विधान चन्द्र कृषि विश्वविद्यालय पश्चिम बंगाल
  • बिरसा कृषि विश्वविद्यालय रांची, झारखंड
  • केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय इम्फाल, मणिपुर
  • केन्द्रीय मात्स्यिकी शिक्षा संस्थान, मुंबई
  • डॉ. पंजाब राव देशमुख कृषि विश्वविद्यालय अकोला, महाराष्ट्र
  • डॉ. यशवंत सिंह परमार बागवानी एवं वानिकी हिमाचल प्रदेश
  • गोविंद वल्लभ पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय पंतनगर, उत्तर प्रदेश
  • गुजरात कृषि विश्वविद्यालय, सरदार कृषि नगर दांतीबाड़ा (बनासकांठा)
  • भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली
  • भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान, इज्जतनगर
  • इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय कृषकनगर, रायपुर

एक वर्षीय सर्टिफिकेट कोर्सेज

  • सर्टिफिकेट इन एग्रीकल्चर साइंस
  • सर्टिफिकेट कोर्सेज इन फ़ूड एंड बेवरीज सर्विससर्टिफिकेट कोर्स इन बायो-फ़र्टिलाइजऱ प्रोडक्शन

दो वर्षीय डिप्लोमा कोर्सेज

  • डिप्लोमा इन एग्रीकल्चर
  • डिप्लोमा इन एग्रीकल्चर एंड अलाइड प्रैक्टिसेज
  • डिप्लोमा इन फ़ूड प्रोसेसिंग
  • तीन वर्षीय बैचलर कोर्सेज
  • बैचलर ऑफ़ साइंस इन एग्रीकल्चर
  • बैचलर ऑफ़ साइंस
  • बैचलर ऑफ़ साइंस इन क्रॉप फिजियोलॉजी
  • दो वर्षीय मास्टर कोर्सेज इन एग्रीकल्चर
  • मास्टर ऑफ़ साइंस इन एग्रीकल्चर
  • मास्टर ऑफ़ साइंस इन बायोलॉजिकल साइंसेज
  • मास्टर ऑफ़ साइंस इन एग्रीकल्चर बॉटनी

तीन वर्षीय डाक्टरल कोर्सेज

  • डॉक्टर ऑफ़ फिलोसॉफी इन एग्रीकल्चर
  • डॉक्टर ऑफ़ फिलोसॉफी इन एग्रीकल्चर बायोटेक्नोलॉजी
  • डॉक्टर ऑफ़ फिलोसॉफी इन एग्रीकल्चरल एंटोमोलॉजी

वेतन

  • कृषि वैज्ञानिक का औसतन वेतन 1 लाख रूपए प्रति माह।
  • जूनियर लेवल के कृषि वैज्ञानिक का वेतन।0 हज़ार रूपए प्रति माह होता है।
  • सीनियर लेवल के कृषि वैज्ञानिक का वेतन 2 लाख रूपए प्रति माह होता है।

कृषि तकनीशियन वेतन

  • कृषि तकनीशियन का औसतन वेतन 50 हज़ार रूपए प्रति माह है।
  • जूनियर लेवल के कृषि तकनीशियन का वेतन 30 हज़ार रूपए प्रति माह है।
  • सीनियर लेवल के कृषि तकनीशियन का वेतन 90 हज़ार रूपए प्रति माह होता है।
जरूर पढ़ें
spot_img

मोस्ट पॉपुलर