Wednesday, November 29, 2023
Homeउज्जैन समाचारशहर में 200 से ज्यादा पंडाल में दुर्गा प्रतिमा की स्थापना होगी…

शहर में 200 से ज्यादा पंडाल में दुर्गा प्रतिमा की स्थापना होगी…

अस्थायी बिजली कनेक्शन के लिए समिति एमपीईबी के दफ्तर पहुंच रहे

अब तक थानों पर स्वीकृति के लिए पहुंचे 180 आवेदन

अक्षरविश्व न्यूज. उज्जैन आज सर्वपितृ अमावस्या के साथ ही पितृपक्ष का समापन हो जाएगा। कल से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो जाएगी और सनातन धर्मावलंबी मां दुर्गा की भक्ति में सराबोर हो जाएंगे। युवा शक्ति भी नवरात्रि पर्व को पूरे उत्साह के साथ मनाने की तैयारी कर रही है। शहर में 200 से ज्यादा युवा भक्त समितियां सार्वजनिक पंडाल बनाकर मां दुर्गा की आराधना करेंगे।

युवा भक्त मंडल ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी है। चुनाव का दौर होने से आदर्श आचार संहिता का पालन करते हुए पुलिस प्रशासन ने पहले ही समस्त समिति के पदाधिकारियों को अलर्ट कर दिया है। सभी थाना क्षेत्रों में थाना प्रभारी ने मंडल पदाधिकारियों को बुलाकर औपचारिक चर्चा की और छोटे बड़े सभी पांडाल और मंदिरों में होने वाले आयोजनों को शांति पूर्वक निर्धारित समय में संपन्न कराने के दिशा निर्देश जारी किए। शहर के विभिन्न थानों में शुक्रवार की शाम तक करीब 180 पंडालों द्वारा दुर्गा प्रतिमा की स्थापना एवं आयोजनों को स्वीकृति के लिए आवेदन किए हैं।

चिमनगंज में सबसे ज्यादा, खराकुआं में सबसे कम…

चिमनगंज मंडी थाना क्षेत्र में सबसे ज्यादा 35 जगह दुर्गा पंडाल की स्थापना होगी। इसमें करीब 10 जगह स्थायी मंदिरों में आयोजन हैं। नीलगंगा क्षेत्र में 29, माधवनगर में 30, नानाखेड़ा क्षेत्र में 9, महाकाल क्षेत्र में 20 जिसमें हरसिद्धि, चौबीस खंभा और योगमाया स्थाई मन्दिर, पंवासा में आठ जगह, खाराकुआ 6, जीवाजीगंग में 15, कोतवाली में 10, नागझिरी में 20 जिसमें हामूखेड़ी माता मन्दिर स्थायी है।

अस्थाई बिजली कनेक्शन के लिए पदाधिकारी एमपीईबी कार्यालय पहुंचे

इधर आदर्श आचार संहिता के चलते पंडाल में अस्थायी बिजली कनेक्शन लेना भी जरूरी है। हालांकि 180 में से अब तक केवल पांच समिति के अस्थाई बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन बिजली विभाग को प्राप्त हुए हैं। बिजली कंपनी के ईई ओपी हारोडे के मुताबिक बीते वर्ष पूर्व क्षेत्र 25 अस्थाई कनेक्शन दिए थे जबकि पश्चिम क्षेत्र में 10 अस्थायी बिजली कनेक्शन दिए गए थे।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर