Monday, January 30, 2023
Homeउज्जैन समाचारलेन-देन को लेकर समस्या-परेशानी का अकाउंट खोलना हो तो SBI जाईये...

लेन-देन को लेकर समस्या-परेशानी का अकाउंट खोलना हो तो SBI जाईये…

कस्टमरों ने फेसबुक पर खोला मोर्चा… 100 से ज्यादा तीखें कमेंट्स

उज्जैन।सरकारी सेक्टर के सबसे बड़े बैंक एसबीआई की सर्विस और स्टाफ को लेकर शहरवासियों ने इन दिनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मोर्चा खोल रखा हैं। किसी को खाता खोलने में दिक्कत है, तो किसी को पैसे निकालने में।

किसी का केवाईसी नहीं हो रहा तो किसी का केवाईसी के चलते पैसा फसा हुआ है। किसी को नॉमिनी को लेकर परेशानी हो रही है, तो कोई स्टाफ के अभद्र व्यवहार, की शिकायत कर रहा हंै। हालांकि बाकी बैंकों में भी यह समस्या है, लेकिन एसबीआई बैंक इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है।

सोशल मीडिया के फेसबुक प्लेटफार्म के उज्जैन वाले ग्रुप में एक यूजर द्वारा एसबीआई बैंक की बुधवारिया स्थित मैन ब्रांच की सर्विस को लेकर एक पोस्ट डाली गई। इसमें यूजर संदीप परमार ने बताया कि एसबीआई वालों के व्यवहार और कार्यप्रणाली से परेशान होकर उन्होंने अपना अकाउंट बंद करवा लिया है। इसके बाद १०० से ज्यादा लोगों ने एसबीआई बैंक की सर्विस और कार्यप्रणाली को लेकर तीखीं प्रतिक्रियाएं दी।

उज्जैन वाले गु्रप पर मिले ऐसे कमेंट्स

सबसे घटिया बैंक है एसबीआई, यहां के कर्मचारी उससे भी घटिया। आज मैं केश जमा करने बैंक गया था। लंच टाइम में तो 2 मिनट की देरी थी। कर्मचारी ने केश नहीं लिया और कहा कि टाइम हो गया।-नितेश बबेरवाल

भाई साहब नानाखेड़ा ब्रांच का तो और भी बुरा हाल है। समस्या को लेकर मैनेजर तो बात ही नहीं करता। क्योंकि उन्हें किसी भी टेबल पर होने वाले कार्य का कोई ज्ञान ही नहीं है।-नरेंद्र मोदी

पिछले दिनों मैं भी चिमनगंज मण्डी शाखा में अकाउंट बंद करवा चुका हूं। कारण स्टाफ का दुव्र्यवहार। शिकायत पर भी किसी को फर्क नहीं पड़ता। जिम्मेदार भी सुनवाई नहीं करते।-सरफराज कुरेशी

एसबीआई 0492 में भी स्टाफ द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के साथ अभद्रता की जाती है। मैंने इस बात का विरोध किया, तो जवाब मिला की, अकेला चना भाड़ नहीं फोड सकता। इसके बाद कर्मचारी सीट छोड़ कर चला गया-बद्रीलाल शर्मा

शहर में एसबीआई बैंककी हर शाखा के यहीं हाल है। बैंक स्टाफ के अभद्र व्यवहार और मनमानी कार्यप्रणाली से परेशान होकर लोग अपना खाता बंद करवाना ही उचित समझ रहे हैं।– रमेश पुरोहित

स्टाफ के दुव्र्यवहार के कारण मैंने भी अपने अकाउंट को महानंदा नगर ब्रांच में शिफ्ट करवाया लिया है। ग्राहक को परेशान किया जाता है।-दीपक निमजे

देवास रोड लोटस के पास स्थित शाखा भी नाकारा, अभद्र स्टॉफ से भरा पड़ा है। लेन-देन को लेकर समस्या-परेशानी का अकाउंट खोलना हो तो इस शाखा में जाईये।-एसपीजीएम सरकार

सबसे घटिया बैंक है। कर्मचारी फ्री का वेतन लेने के लिए बैठे रहते है। जैसे ही बैंक में भीड़ बढ़ती है तो उनके सर्वर डाउन हो जाते है। मैं खुद एक यूपीआई इनेबल करवाने के लिए 3 महीने से चक्कर काट रहा हूं।-प्रेम राजपूत दरबार

एसबीआई की कार्यप्रणाली को लेकर सोशल मीडिया पर आने वाले सभी कमेंट्स के स्क्रीन शॉट अक्षर विश्व के पास सुरक्षित है।

जब बैंक न सुने तो आरबीआई लेगा शिकायत पर एक्शन…

उपभोक्ता यदि बैंक के मनमाने रवैये से परेशान है,तो ऑनलाइन शिकायत कर सकते है। जब बैंक न सुने तो आरबीआई शिकायत पर एक्शन लेगा।

आमतौर बैंकों की कार्य प्रणाली से परेशान लोगों का कहना है कि शिकायत करने के बाद कोई रिस्पॉन्स नहीं मिलता है। तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आप आरबीआई की वेबसाइट पर जाकर किसी भी बैंकिंग या नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी के खिलाफ शिकायत कर सकते हैं। इसके लिए आरबीआई की वेबसाइट cms.rbi.org पर प्रोसेस का फॉलो करते हुए शिकायत कर सकते है।

इनका कहना है मुझे कोई जानकारी है और न ही इस तरह की शिकायत मिली है। वैसे भी बैंकों की शिकायतों का निराकरण करने के लिए मैं अधिकृत नहीं हूं। – संदीप अग्रवाल, लीड बैंक मैनेजर, उज्जैन

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर