Monday, February 6, 2023
Homeउज्जैन समाचारभक्तों के लिए खुला 'महाकाल लोक'

भक्तों के लिए खुला ‘महाकाल लोक’

महाकाल लोक को निहारने उमड़ी भीड़, कर्नाटक के श्रद्धालु बोले तीन दिन बाद खुलता तो निहार कर ही जाते…

नासमझी…सेल्फी के लिए खड़े हुए मूर्ति के प्लेटफार्म पर

आम लोगों के लिए प्रवेश प्रारंभ, सुबह भीड़ बढ़ी तो पुलिस बल पहुंचाया..

उज्जैन।मंगलवार की शाम को श्री महाकाल लोक का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया। इसके बाद बुधवार सुबह 6 बजे श्री महाकाल लोक का मुख्य प्रवेश द्वार आम लोगों के लिए खोल दिया गया। जैसे-जैसे लोगों को जानकारी मिल रही हैं वे इसे देखने के लिए आ रहे हैं। लगातार भीड़ बढ़ रही हैं।

lok 2
श्री महाकाल लोक का कार्य पूर्ण होने के बाद से ही शहर ही नहीं देशभर के लोगों को इसे देखने की उत्सुकता बनी हुई थी। लोकार्पण समारोह को देखने के लिए कर्नाटक, बैंगलोर, राजस्थान सहित आसपास के शहरों से भी बड़ी संख्या में लोग आए हुए हैं।

lok 3

कई लोग तो तीन-चार दिनों से उज्जैन में ही रुके हैं। शाम को लोकार्पण के बाद आज सुबह ६ बजे मुख्य प्रवेश द्वार आम लोगों के लिए खोला गया। जैसे ही इस बात की जानकारी लगी तो इसे देखने के लिए भीड़ उमडऩे लगी। आज सुबह अक्षर विश्व ने महाकाल लोक देखने आए लोगों से चर्चा की….

मूर्तियां देखने के साथ ही बढऩे लगी लापरवाही भी….

lok 6

महाकाल लोक देखने के लिए सुबह से ही बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। कई लोग मूर्तियों के बिल्कुल नजदीक पहुंचकर फोटो खिंचवा रहे हैं तो कई जूते पहनकर ही मूर्तियों के बने स्टैंड पर चढ़ गए थे।

कई मूर्तियों के करीब बैठ गए। इन्हें रोकने-टोकने वाला भी कोई नहीं हैं। महाकाल लोक में सुरक्षाकर्मी भी तैनात किए गए हैं। मगर वे भी ऐसे लोगों को रोक-टोंक नहीं रहे हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में यहां पर मूर्ति शिल्प और भित्ती चित्रों को नुकसान पहुंच सकता है।

बहुत सुंदर, अद्भुत लगा महाकाल लोक

lok 4

कर्नाटक से आए मलकारि के. ने बताया कि महाकाल लोक अद्भुत और सुंदर लगा। ये विशाल क्षेत्र में फैला हुआ है। हम तीन दिन से इसे देखने के लिए रुके थे। यदि यह तीन दिन बाद भी खुलता तो इसे देखकर ही जाते। कल हमने प्रधानमंत्री मोदी की सभा को भी सुना।

लोग यहां की भव्यता का ख्याल रखें…

lok 1

राजस्थान जयपुर से आए महेंद्र पालीवाल ने बताया कि मंगलवार को ही उज्जैन आए। यहां आकर पता चला कि मोदीजी आ रहे हैं। हम उज्जैन में ही रुक गए। आज सुबह महाकाल मंदिर में दर्शन किए। इसके बाद महाकाल लोक देखने आए। मूर्तियां बहुत ही आकर्षक बनी है और खासकर इनके नीचे लिखे स्लोगन बहुत अच्छे लगे। यहां की भव्यता बनी रहे इसका ख्याल लोगों को ही करना है।

प्रवेश खुलने का पता चलते ही कॉलेज से चले आए…

उज्जैन की रूपाली जाधव ने बताया कि कई दिनों से महाकाल लोक के खुलने की प्रतीक्षा थी। आज सुबह पता चला कि प्रवेश द्वार खुल गया तो हम फेे्रंड्स के साथ कॉलेज से सीधे यहां चले आए। बहुत अच्छा लग रहा है।

महाकाल लोक को कई दिनों से देखने की इच्छा थी….

विद्यानगर निवासी ईशान शुक्ला कॉलेज स्टूडेंट हैं। वे बताते हैं कि कई दिनों से मीडिया में पढ़-देख रहे थे महाकाल लोक के बारे में। लगातार उत्सुकता बढ़ती जा रही थी। आज सुबह दोस्तों से पता चला तो देखने चले आए। यहां का सौंदर्य लुभा रहा है। इसे देखने में तीन-चार घंटे तो लगेंगे ही।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर