Tuesday, February 7, 2023
Homeउज्जैन समाचारमहाकाल लोक रहेगा हाईटेक

महाकाल लोक रहेगा हाईटेक

उमा एप से मूर्तियां सुनाएंगी शिव महिमा

उज्जैन।महाकाल लोक को सुंदर, नयनाभिराम और आर्कषक तो बनाया है। यह हाईटेक संसाधनों से भी लैस होगा। महाकाल लोक में निर्मित म्यूरल और स्कल्प्चर से शिव की महिमा का बखान होगा। उनकी कथाएं सुनने को मिलेंगी। इसके लिए केवल मोबाइल पर ‘उमा’ एप डाउनलोड कर मूर्तियों पर लगे क्यूआर कोड को स्कैन करना होगा।

महाकाल लोक में शिव और शिव परिवार को लेकर म्यूरल और स्कल्प्चर निर्मित किए गए हैं। म्यूरल और स्कल्प्चर की विशेषता और जानकारी के लिए किसी गाइड या मार्गदर्शक की आवश्यकता नहीं होगी। महाकाल लोक में आने वालों को भगवान शिव की महिमा और उनकी कथाएं सुनने को मिलेगी। लोग इन्हें अपने मोबाइल पर ही सुन सकते हैं। महिमा और कथाएं ऑडियो फॉर्मेट में होंगी। इसके लिए महाकाल लोक में 500 डिवाइस लगाई जा रही हैं।

एप करना होगा डाउनलोड

श्रद्धालु अपने मोबाइल से भी स्कैन कर ऑडियो सुन सकेंगे, लेकिन उन्हें मोबाइल में ‘उमाÓ नामक एप डाउनलोड करना होगा। इससे स्कैन होते ही म्यूरल (भित्ति चित्र) या मूर्ति का कोड डालना पड़ेगा, जिसके बाद शिव महिमा की कहानी सुनाई देगी।

फिलहाल चार भाषाओं का ऑप्शन

महाकाल लोक में 52 म्यूरल, 80 स्कल्प्चर और 200 मूर्तियां हैं, जो भगवान शिव की कहानी बताती हैं। स्कैन करते ही भाषा सिलेक्शन का भी ऑप्शन मिलेगा। फिलहाल, शुरुआत में हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती और मराठी में जानकारी मिलेगी। भविष्य में अन्य भाषा के ऑप्शन भी मिलने लगेंगे।

ऑडियो डिवाइस लेना होगा…

महाकाल के नए आंगन में प्रवेश करते ही किसी श्रद्धालु को मूर्तियों और म्यूरल पर अंकित शिव महिमा से जुड़ी जानकारी चाहिए तो वह मोबाइल से क्यूआर कोड को स्कैन कर ले सकते हैं। महाकाल लोक में प्रवेश द्वार पर श्रद्धालुओं को शुल्क देकर ऑडियो डिवाइस लेना होगा। इसके बाद वो जिस भी मूर्ति या म्यूरल के बारे में जानना चाहते हैं, उसके नीचे लगे क्यूआर कोड को स्कैन करना होगा। स्कैन करते ही उस मूर्ति के बारे में जानकारी मिल जाएगी।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर