Skin Fasting से चेहरे को मिलेगी एक अलग चमक

फास्टिंग का नाम तो सभी ने सुना होगा। कुछ लोग हफ्ते में 1 या 2 दिन फास्ट जरुर करते हैं। फास्ट रखने के पीछे ज्यादातर लोगों के भाव धार्मिक होते हैं, मगर आजकल कुछ लोग बीमारियों से बचने के लिए भी फास्टिंग करना पसंद करते हैं।

विज्ञान की दृष्टि से देखें तो हफ्ते में 1 दिन भूखा रहने या फिर फलाहार डाइट लेने से बॉडी में कैंसर सेल्स अपने आप मरने लगते हैं। उसी तरह सेहत के साथ-साथ आपकी त्वचा को हेल्दी रखने के लिए भारत में स्किन-फास्टिंग तकनीक शुरु की गई है। आइए जानते हैं इस तकनीक के बारे में…

जब हम उपवास करते हैं, तो हमारे पेट को पूरे एक दिन के लिए राहत महसूस होती है। हमारी बॉडी में हर वक्त लाखों की संख्या में सेल्स बनते और बिगड़ते हैं। उसी तरह हमारी स्किन पर भी एक नहीं बल्कि 3-4 परतें मौजूद हैं। यह परतें भी रोज बनती और बिगड़ती हैं।

आजकल ज्यादातर लड़कियां-महिलाएं मेकअप करना पसंद करती हैं। वर्किंग वुमेन के लिए तो मेकअप बहुत जरुरी हो जाता है। मगर कहीं न कहीं अपनी प्रोफेशनल लाइफ के चलते हम अपने स्किन से समझौता कर बैठते हैं। जिस वजह से हम बहुत जल्द उम्र से पहले बूढ़े लगने लग जाते हैं।

क्या है स्किन फास्टिंग?- जापान से आई यह ब्यूटी तकनीक इंडिया में भी इस समय काफी फॉलो की जा रही है। इसको फेमस करने में सोशल मीडिया का बड़ा हाथ है। आसान शब्दों में समझें तो फास्टिंग का मतलब है भूखे रहना और स्किन फास्टिंग का मतलब है अपनी स्किन को भूखा रखना यानी कम से कम 1 या 2 दिन अपने चेहरे पर किसी भी तरह के ब्यूटी प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल न करना।

स्किन फास्टिंग की शुरुआत वैसे तो विदेश से हुई है। मीडिया द्वारा इस तकनीक को देश के हर कोने में पहुंचाने का काम किया गया है। साधारण शब्दों में बात करें तो  स्किन फास्टिंग का मतलब है अपनी स्किन को भूखा रखना है। हफ्ते में 1 या 2 बार आपको अपनी स्किन पर मॉइस्चराइजर के अलावा किसी भी चीज का इस्तेमाल नहीं करना। हो सके तो मेकअप भी नहीं।

स्किन फास्टिंग के फायदे…

त्वचा लेती हैं सांस

स्किन फास्टिंग का सबसे पहला फायदा, आपकी त्वचा खुलकर सांस लेती है। हमारी स्किन पर छोटे-छोटे रोम छिद्र मौजूद होते हैं, जो हर रोज मेकअप की वजह से बंद रहने लगते हैं। ऐसे में हफ्ते में एक बार स्किन फास्टिंग करने से त्वचा को खुलकर सांस लेने का मौका मिलता है।

एक्ने-फ्री स्किन- रोम छिद्र लंबे समय तक बंद रहने की वजह से फेस पर पिंपल्स होने लगते हैं। मगर जब आप हफ्ते में एक दिन चेहरे पर मेकअप नहीं लगाते तो रोम छिद्रों को खुलकर सांस लेना आसान हो जाता है। जिससे चेहरे पर मुहांसे यानि एक्ने की प्रॉब्लम आपको नहीं होती।

नेचुरल शाइन- आपने कभी महसूस किया होगा कि आज से कुछ साल पहले आपकी स्किन नेचुरल ग्लोइंग करती थी। मगर कैमिकल युक्त प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से वो नेचुरल शाइन कहीं खो जाती है। मगर हफ्ते में एक बार स्किन फास्टिंग करने से आपका वो खोया हुआ ग्लो वापिस बरकरार होने लगता है।

कुछ लोगों को डर होता है कि एक भी दिन बिना मेकअप या सनस्क्रीन लोशन लगाए बगैर घर से निकलने पर उनकी स्किन डैमेज हो सकती है। मगर ऐसा कुछ नहीं हैं, अगर फिर भी आपके दिल में किसी तरह का भ्रम है तो आप चेहरे पर ऐलोवेरा जेल अप्लाई करके घर से बाहर निकलें। ऐसा करने से आपको किसी भी स्किन प्रॉब्लम का सामना नहीं करना पड़ेगा।