Tuesday, November 29, 2022
Homeहेल्थ एंड फिटनेससर्दियों के मौसम में इस तरह करें अपनी और अपनों की देखभाल

सर्दियों के मौसम में इस तरह करें अपनी और अपनों की देखभाल

सर्दियों का मौसम जितना सुहावना होता है उतना ही इस मौसम में अपनी देखभाल करना मुश्किल। बदलते मौसम में सबसे ज्यादा डर इस बात का रहता है कि कहीं आपको ठंड न लग जाये और फिर आपकी तबियत बिगड़ जाये। इस मौसम में एक्सरसाइज करने में भी काफी दिक्कतें होती हैं और खासतौर पर एक्सरसाइज करते समय किस तरह के कपड़े पहनना चाहिए इस बात को लेकर भी लोग बहुत परेशान रहते हैं।

लोग जो दिल से जुडी किसी बीमारी से पीड़ित रहते हैं उन्हें ठंड से ज़रूर बचना चाहिए। ठंड से बचने का सबसे आसान और असरदार तरीका है कि आप ऐसे गर्म कपड़े पहनें जिससे बाहरी मौसम का असर आपके शरीर पर पड़े ही नहीं। यहाँ बता रहे हैं कि ठंड के दिनों में सही कपड़ों का चुनाव कैसे करें।

सर्दियों में यह बहुत ज़रूरी है कि आप सिर से पाँव तक खुद को गर्म कपड़ों से ढके रहें। इस मौसम के लिए सबसे अच्छे गर्म कपड़े वही माने जाते हैं जो बाहर की हवा को अंदर न घुसने दें और स्किन को सांस लेने में मदद भी करें। इन कपड़ों के धागों में हवा फंस जाती है और जैसा कि हम सब जानते हैं कि हवा और कपड़े दोनों ही ख़राब हीट कंडक्टर हैं इसलिए इन कपड़ो को पहनने से बाहर का तापमान अंदर शरीर तक नहीं पहुँच पाता है। इन गर्म कपड़ों में जितनी अधिक परतें होंगी वो उतना ही अच्छा है। क्योंकि उन सारी परतों के बीच में हवा भर जाती है और ठंड अंदर घुस नहीं पाती है।

अगर सर्दियों में आपके हाथ तुरंत ठंडे पड़ जाते हैं और फिर आप कोई काम नहीं कर पाते हैं तो इस समस्या से बचने के लिए आप ऊन से बुने हुए दस्ताने का इस्तेमाल करें। इसमें अलग अलग उंगलियों के लिए खांचे नहीं बने होते हैं बल्कि यह सिर्फ दो हिस्सों में होता है जिस कारण से ठंडी हवा इधर से उधर जा नहीं पाती है। एक हिस्से में अंगूठा रहता है और बाकी में एक साथ चारों उंगलियाँ। बहुत ज्यादा ठंडी जगहों पर लोग मिटेन के ऊपर ऊनी मोज़े पहनते हैं।

कई डॉक्टरों का कहना है कि सर्दियों में अगर आपने अपने सिर को नहीं कवर किया तो समझ लें कि यह आपकी सबसे बड़ी गलती है। क्योंकि शरीर की 80% गर्मी सिर के माध्यम से बाहर निकल जाती है। इसलिए पूरे शरीर को गर्म रखने के लिए सबसे ज़रूरी हैं कि आप सिर पर गर्म ऊनी कैप लगायें। इस मामले में मंकी कैप काफी असरदार है क्योंकि उससे एक ही साथ मुंह ,कान और सिर तीनो ढंके रहते हैं।

शरीर में अंदर ऐसे कपड़े पहनने चाहिए जिससे स्किन को सांस लेने में आसानी रहें और इसके लिए कॉटन कपड़े सबसे अच्छे माने जाते हैं। इसलिए सबसे अंदरुनी परत कॉटन कपड़े की पहनें और उसके ऊपर से वूलेन कपडें पहनें जिससे ठंडी हवा शरीर तक न आ सके । यह ठंड से बचने का सबसे असरदार तरीका है।

सर्दियों में फुल साइज़ वाले ऊनी मोज़े पहनना बहुत ही फायदेमंद होता है। इससे आपके पैर को बिल्कुल भी ठंड नहीं लगती है और आप आसानी से घर के काम भी कर लेते हैं। अगर ठंड बहुत ज्यादा हो तो दो जोड़ी मोज़े पहनें।

सर्दियों के मौसम में इस बात का ख़ास ध्यान रखें कि कभी भी गीले कपड़े न पहने। किसी भी कारण वश अगर आपके कपड़े गीले हो गये हैं तो उसे तुरंत निकाल दें और अपना शरीर पोछ लें क्योंकि गीले कपड़ों से तुरंत सर्दी लग जाती है और अगर बाहर ठंड ज्यादा है आप बहुत मुश्किल में पड़ सकते हैं।

अगर आप ऐसे किसी जगह पर हैं जहाँ बर्फीली हवाएं चल रही हैं तो उस दौरान स्कार्फ पहनना बहुत ज़रूरी हो जाता है। इससे नाक और मुंह दोनों ही ढके रहते हैं जिससे जब आप सांस बाहर छोड़ते हैं तो स्कार्फ का वो हिस्सा गर्म हो जाता है और जब आप फिर सांस अंदर लेते हैं तो हवा उसमें से गुजरने के कारण थोड़ी गर्म हो जाती है। हालाँकि साइनस जैसी बीमारियों से पीड़ित लोग स्कार्फ लगाने से और उलझन महसूस करने लगते हैं। ऐसे बर्फीले मौसम में कपड़ों की बाहरी परत हमेशा वाटर रेजिस्टेंस गोर-टेक्स और नायलॉन के कपड़े पहनें।

अगर आप बहुत घने कोहरे वाले इलाके में हैं तो ऐसे मौसम में कभी भी हल्के रंग जैसे कि सफ़ेद या भूरे रंग के कपड़े न पहनें क्योंकि ये कोहरे के कारण दीखते ही नहीं है और रोड पर चलते समय आपका एक्सीडेंट भी हो सकता है। इसलिए इस मौसम में गहरे लाल रंग वाले या चटक ऑरेंज कलर के कपड़े पहनें जिन्हें कोहरे में भी देखा जा सके।

जरूर पढ़ें
spot_img

मोस्ट पॉपुलर