Sunday, September 24, 2023
Homeउज्जैन समाचारसुबह 10 बजे उज्जैन जिला कोर्ट भवन में मचा हड़कंप….

सुबह 10 बजे उज्जैन जिला कोर्ट भवन में मचा हड़कंप….

युवक ने खुद को न्यायाधीश के कक्ष में बंद कर कहा- सरेंडर करना है…

माधव नगर पुलिस ने युवक को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी

अक्षरविश्व न्यूज.उज्जैन। अभी न्यायालय का काम काज शुरू भी नहीं हुआ था कि बुलेट पर सवार एक युवक जिला न्यायालय परिसर में दाखिल हुआ और वह जोर-जोर से चिल्ला रहा था कि मैंने मर्डर किया, जज के सामने सरेंडर करना है। यह कहते हुए युवक ने खुद को द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी के कक्ष में बंद कर लिया। इस घटना से न्यायालय में हड़कंप मच गया। पुलिस ने किसी तरह दरवाजा खुलवाकर युवक को गिरफ्तार कर लिया।

शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे बुलेट पर सवार एक युवक मैंने मर्डर किया है, मुझे सरेंडर करना है यह चिल्लाते हुए जिला न्यायालय परिसर में दाखिल हुआ। साइकिल स्टैंड पर लगे बैरिकेड्स को गिराते हुए बुलेट को भवन के मुख्य द्वार की चैनल तक ले गया। रेम्प से बुलेट ले जाने के प्रयास में वह गिर पड़ा इसके बाद दौड़ लगाते हुए भवन के प्रथम तल स्थित द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश कनिष्ठ खंड एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट के कक्ष में चला गया और भीतर से दरवाजा लगा लिया।

इस बीच मुख्य द्वार पर तैनात मप्र पुलिस के संतरी जयपाल विश्वकर्मा ने कंट्रोल रूम और माधव नगर थाना पुलिस को इसकी जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक से दरवाजा खोलने को कहा लेकिन वह इसके लिए तैयार नहीं था उसका कहना था कि वह सरेंडर करने आया है न्यायाधीश मेडम को बुलाओ। काफी देर बाद पुलिस ने एक महिला के माध्यम से कहलवाया मैं न्यायाधीश हूं, तुम क्या चाहते हो यह बताने के लिए कक्ष से बाहर आना होगा।

इस पर युवक ने जैसे ही कक्ष का दरवाजा खोला पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। माधव नगर थाना प्रभारी मनीष लोधा ने बताया कि इस पर युवक ने जैसे ही कक्ष का दरवाजा खोला पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। माधव नगर थाना प्रभारी मनीष लोधा ने बताया कि गिरफ्तार युवक अरबाज पिता मोहम्मद साजिद निवासी लोहे का पुल है, लेकिन कुछ दिनों से इंदिरा नगर में रहता है।

गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उसके परिजनों से पूछताछ की तो पता चला की अरबाज एक दिन पूर्व पानबिहार घट्टिया गया था और वहां से भी किसी की बुलेट उठा लाया है। युवक ने इस तरह की हरकत क्यों कि इसका पता लगाया जा रहा है। टीआई लोधा ने कहा कि घटना के समय न्यायाधीश के कक्ष में कुछ ही कर्मचारी मौजूद थे। युवक न्यायाधीश से मिलना चाहता था

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर