Monday, January 30, 2023
Homeउज्जैन समाचारप्रमोशन के चलते उज्जैन एसएसपी का तबादला संभव

प्रमोशन के चलते उज्जैन एसएसपी का तबादला संभव

पुलिस विभाग में बदलाव की कवायद

बदले जाएंगे अठारह एसपी और 50 एएसपी-डीएसपी स्तर के अधिकारी

उज्जैन। प्रदेश में आईएएस के फेरबदल के बाद जल्द आईपीएस अफसरों की बारी आएगी। सरकार भारतीय पुलिस सेवा और राज्य पुलिस सेवा के अफसरों की बड़ी तबादला सूची जारी करने की तैयारी में है। इसे लेकर पुलिस विभाग में बदलाव की कवायद चल रही है। ऐसे पुलिस अधिकारी जिन्हें अभी फील्ड में तीन साल हो चुके हैं या विधानसभा चुनाव तक तीन साल होने वाले हैं या जिन्हें एक स्थान पर प्रमोशन के बाद पदस्थ है, उनका तबादला तय है। प्रमोशन के चलते उज्जैन एसएसपी का तबादला संभव है।

अगले साल नवंबर में विधानसभा चुनाव होने वाले है। सरकार चुनाव पूर्व की जमावट के हिसाब से आईपीएस और एसपीएस अफसरों की तबादला सूची जारी करेगी। इस सर्जरी में 52 में से 15-18 जिलों में एसपी बदलने के आसार हैं। ऐसा माना जा रहा है कि तबादलों में डीआईजी, आईजी, एडीजी और डीजी रैंक के अफसर भी प्रभावित होंगे। इसमें उज्जैन एसएसपी भी शामिल है।

प्रदेश में एसपी स्तर के कई पुलिस अफसर प्रमोशन के बाद डीआईजी बन जाएंगे। इनका प्रमोशन अगले साल जनवरी में होगा। इसमें रीवा एसपी नवनीत भसीन, सागर तरुण नायक, सीधी मुकेश श्रीवास्तव, उज्जैन सत्येन्द्र शुक्ला, विदिशा मोनिका शुक्ला, कटनी सुनील कुमार जैन, राजगढ़ अवधेश गोस्वामी, डीसीपी ट्रैफिक महेश चंद्र जैन शामिल हैं। इनके प्रमोशन की वजह से संभावना है कि इनमें से भी कई एसपी हट जाएंगे।

तीन साल का क्राइटेरिया

धार एसपी आदित्य प्रताप सिंह का हटना तय है। उन्हें तीन साल से ज्यादा हो चुके हैं। इसी तरह हरदा एसपी मनीष अग्रवाल, ग्वालियर एसपी अमित सांघी, सिंगरौली एसपी वीरेन्द्र सिंह, जबलपुर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, आगर एसपी राकेश कुमार सगर, बुरहानपुर एसपी राहुल कुमार लोढ़ा, बैतूल एसपी सिमाला प्रसाद, देवास एसपी शिवदयाल, खंडवा एसपी विवेक सिंह, छतरपुर एसपी सचिन शर्मा, डीसीपी साई कृष्णा थोटा, दतिया एसपी अमन राठौड़ चुनाव के पहले तीन साल पूरे कर लेंगे। दो एसपी डेपुटेशन पर केंद्र में जाएंगे। इस कारण छिंदवाड़ा एसपी विवेक अग्रवाल और नरसिंहपुर एसपी विपुल श्रीवास्तव को रिलीव किया जा सकता है। इनकी जगह नए एसपी बनाए जाएंगे।

प्रमोटी आईपीएस को मिल सकती है पोस्टिंग

नई सूची में वर्ष 1995-96 बैच के प्रमोटी आईपीएस को फील्ड पोस्टिंग मिल सकती है। ऐसे कई अफसर हैं, जो आईपीएस तो बन चुके हैं, लेकिन एसपी नहीं बन पाए हैं। इन अफसरों को किसी जिले में एसपी की कमान देकर पदस्थ किया जा सकता है।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर