Saturday, January 28, 2023
Homeउज्जैन समाचारउज्जैन:अपहरणकर्ता फिरौती के 50 हजार लेने के बाद चलती ट्रेन से फेंक...

उज्जैन:अपहरणकर्ता फिरौती के 50 हजार लेने के बाद चलती ट्रेन से फेंक गये युवक को

पुलिस और परिजन रात 2 बजे सुमराखेड़ा स्टेशन पहुंचकर थाने लाये

उज्जैन।गुरूवार शाम मक्सीरोड़ से अपहृत युवक के परिजनों ने अपहरणकर्ताओं को फिरौती के 50 हजार रुपये ऑनलाइन अकाउंट में ट्रांसफर किये जिसके बाद युवक को बदमाश चलती ट्रेन से सुमराखेड़ा स्टेशन के पास फेंक गये। फोन पर जानकारी मिलने के बाद उसके परिजन व माधव नगर पुलिस की टीम रात 2 बजे स्टेशन पहुंची और युवक को थाने लेकर आये।

गुरूवार रात मक्सीरोड़ से किया था अपहरण

नितेश जालिन्द्रा 20 वर्ष निवासी नांदेड़ माकड़ोन उज्जैन के कंचनपुरा में रहकर सेना में भर्ती की तैयारी कर रहा था। उसके भाई जीवन ने बताया कि गुरूवार रात 10.30 बजे नितेश मक्सीरोड़ स्थित ऑनलाइन दुकान पर गया था जहां से अज्ञात बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया। उसी रात 2.35 पर जीवन के मोबाइल के व्हाट्सएप पर अनजान नंबर से वीडियो और मैसेज आया। मैसेज में लिखा था फालतू बात नहीं होगी। वीडियो में नीतेश अकेले रस्सी से बंधा दिख रहा था।

पीठ पर चोंटों के निशान, उल्टियां करता रहा

नितेश की पीठ पर चोंटों के निशान थे, सुबह माधव नगर थाना परिसर में परिजनों की मौजूदगी में वह उल्टियां कर रहा था। उसने पुलिस को इतना ही बताया कि चार बदमाश थे। अपहरण करते समय उसे नशीली दवा सुंघा दी थी। होश आया तो कपड़े नहीं थे और हाथ बंधे थे। बदमाश उसे सुमराखेड़ा स्टेशन से पहले चलती ट्रेन से फेंक गये थे। पैदल चलकर वह स्टेशन तक पहुंचा।

मैसेज पर हुई बात, 50 हजार किये ट्रांसफर

जीवन ने बताया कि अनजान नंबर से व्हाट्सएप पर आ रहे मैसेज की जानकारी निकाली जिसमें सैय्यद हुसैन का नाम सामने आया। नितेश की जान खतरे में थी इस कारण मैसेज भेजने वाले के अकाउंट में तीन बार में कुल 50 हजार रुपये ट्रांसफर किये। यह रुपये सैय्यद के खाते से तुरंत दूसरे खाते में ट्रांसफर हो रहे थे। रुपये देने के बाद भी नितेश की जानकारी नहीं मिलने पर माधव नगर थाने में कालूराम पिता गोपाल निवासी नांदेड़ ने धारा 364 ए, 365 का केस दर्ज कराया।

मैसेज आया था: जीवन ने बताया कि शुक्रवार शाम 7 बजे मोबाइल पर मैसेज आया कि नितेश को तराना बस स्टेण्ड पर रात 2 बजे छोड़ देंगे। इसके बाद पंकज, जीवन, राहुल, सत्यनारायण व अन्य रिश्तेदार रात 1 बजे तराना बस स्टेण्ड पहुंच गये।

इसी बीच रात 2 बजे सुमराखेड़ा स्टेशन से रेलवे कर्मचारी ने नितेश के पिता को फोन पर सूचना दी कि आपका बेटा अंडरवियर में घायल हालत में बैठा है। नितेश के पिता ने यह सूचना जीवन और माधव नगर थाना पुलिस को दी।

स्टेशन पर पहनाए कपड़े और थाने लाये

नितेश को परिजनों ने कपड़े पहनाये इसी दौरान पुलिस की टीम भी सुमराखेड़ा स्टेशन पहुंच गई। पुलिस अपने वाहन से नितेश को अस्पताल लेकर पहुंची जहां उसका मेडिकल कराने के बाद बयान के लिये थाने में बैठा लिया।

मामला संदिग्ध, पूछताछ के बाद निकलेगा निष्कर्ष

नितेश सुमराखेड़ा स्टेशन से मिल चुका है, बयान देने की स्थिति में नहीं था, तबियत बिगडऩे पर अस्पताल में भर्ती कराया है। उसके बयान लेकर पुष्टि करेंगे। मामला संदिग्ध लग रहा है।

मनीष लोधा, टीआई थाना माधव नगर

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर