Wednesday, August 10, 2022
Homeउज्जैन समाचारउज्जैन:टिकट को लेकर माथापच्ची, भाजपा-कांग्रेस के पार्षद के नामों पर मंथन

उज्जैन:टिकट को लेकर माथापच्ची, भाजपा-कांग्रेस के पार्षद के नामों पर मंथन

भाजपा के चार नेता की एकता से अन्य हैरान

चार शीर्ष नेताओं से सहमति के बाद नामांकन

उज्जैन। नगर निगम के मेयर और पार्षदों के नॉमिनेशन भरने की शुरुआत हुए 4 दिन बीत चुके हैं, लेकिन भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां पार्षद कैंडिडेट्स घोषित नहीं कर सकी है।

ऐसे में दावेदार पशोपेश में है कि वे नॉमिनेशन जमा करें या नहीं? हालांकि, उन्होंने नॉमिनेशन फार्म ले लिए हैं। ताकि, पार्टी की ‘ओके’ होते ही नॉमिनेशन जमा कर दें। इधर, टिकट को लेकर बीजेपी और कांग्रेस में मंथन जारी है।

54 वार्डों के प्रत्याशी तय करने को लेकर भाजपा में जमकर घमासान मचा हुआ है। खास बात यह है कि पार्टी के परस्पर प्रतिस्पर्धी चार नेता अपने समर्थकों को टिकट दिलाने के लिए एकजुट हो गए है।

अन्य नेता हैरान है तो शिकवे-शिकायत होने के बाद प्रदेश संगठन को हस्तक्षेप करना पड़ा है। नगर निगम के 54 वार्डों में प्रत्याशी तय करने को लेकर कांग्रेस से अधिक भाजपा में मारामारी मची हुई है। पार्टी के नेता इंदौर रोड स्थित एक होटल में बैठकर नामों पर विचार कर रहे है।

खबर यह है कि इन नेताओं ने पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं को बैठक से परे रखा है। नतीजतन पार्टी में नाराजगी उभरकर सामने आई है।

इसकी शिकायत प्रदेश संगठन को की गई है। बताया जाता है कि बुधवार को दिनभर चली बैठक में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश संगठन मंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से लंबा विचार विमर्श किया है। खबर है कि एक-एक वार्ड में 8-10 दावेदार होने की वजह से नाम तय करने में पार्टी को खासी मशक्कत करनी पड़ रही हैं।

कांग्रेस में अधिक चर्चा नहीं

गत नगर निगम परिषद् में कांग्रेस के 14पार्षद थे। चर्चा है कि इनमें से कुछ को पुन: टिकट देने के साथ कुछ के परिजनों को मैदान में उतारा जा रहा हैं।

कुछ वार्डों में तो स्थिति यह है कि टिकट के लिए कांग्रेस में कोई प्रतिस्पर्धा ही नहीं है एक या दो नाम होने से ही तालमेल बिठाकर उन पर विचार किया जा रहा है। बताया जाता है कि २० से अधिक वार्डों के लिए कांग्रेस ने सिंगल नाम तय कर लिए है।

नाम फायनल होने के पहले ही नामांकन दाखिल किया

उज्जैन। कांग्रेस और भाजपा ने अभी तक 54 वार्डों के उम्मीदवारों की अंतिम सूची तैयार नहीं की है। इसके बाद भी दोनों की दलों के दावेदार चुनाव लडऩे की तैयारी करने लगे है। कई ने नामांकन पत्र तो खरीद लिए तो कुछ ने पार्टी की हरी झंडी मिले बगैर ही नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है।

बुधवार को नगर निगम के 7 वार्ड के लिए 8 नामांकन पत्र जमा हुए। नामांकन जमा करने की तिथि 18 जून है। यानि गुरुवार सहित केवल तीन दिन बचे है।

उप जिला निर्वाचन कार्यालय के अनुसार वार्ड 23 के लिए श्याम, वार्ड 2 से लीलाधर जादव, वार्ड 37 से संतोष कुमार सिसौदिया, वार्ड 39 से जितेंद्र तिलकर व जितेंद्र कुवाल, वार्ड 40 से निर्मला बोड़ाना, वार्ड 42 से शांति भायल और वार्ड 44 से मोनिका चित्तौड़ा ने नामांकन दाखिल किया है।

वार्ड 44 से मोनिका चित्तौड़ा ने भाजपा की ओर से नामांकन पत्र दाखिल किया है। मोनिका चित्तौड़ा नगर निगम के पूर्व अध्यक्ष एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश चित्तौड़ा की बहू है।

पार्टी द्वारा नाम तय नहीं किए जाने के पहले ही नामांकन दाखिल करने के संबंध में मोनिका चितौड़ा के पति पुष्पेन्द्र चित्तौड़ा का कहना है कि हमारी पार्टी के चार शीर्ष नेताओं से बात होने के बाद मोनिका को वार्ड-44 से प्रत्याशी बनाने के लिए सहमति होने पर नामांकन दाखिल किया है। पार्टी का बी-फार्म बाद में दिया जाएगा।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर