जैन ने फिर छोड़ा शब्दबाण… अब आपकी बारी है कि कार्यकर्ताओं का सम्मान हो

By AV NEWS

कोई यह न समझे चुनाव बाद विधायक नहीं रहूंगा

गृहमंत्री शाह दूर कर चुके नाराजगी, लेकिन…

अक्षरविश्व न्यूज. उज्जैन:उज्जैन उत्तर क्षेत्र से विधायक पारस जैन पार्टी उम्मीदवार अनिल जैन कालूहेड़ा के प्रचार में जुट गए हैं, लेकिन एक बार फिर उन्होंने राजनीतिक अंदाज में शब्दबाण छोड़े हैं। उन्होंने कहा है कि कोई यह न समझे कि चुनाव बाद मैं विधायक नहीं रहूंगा। मैंने कार्यकर्ताओं के मान सम्मान का पूरा ख्याल रखा, अब आपकी बारी है कि उनका सम्मान इसी तरह बना रहे।

दरअसल, शनिवार को भाजपा विक्रमादित्य मंडल कार्यालय का शुभारंभ था। इस मौके पर जैन ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कोई यह न समझे कि मैं चुनाव बाद विधायक नहीं रहूंगा, सबके दिलों में मैं विधायक के रूप में रहूंगा। क्षेत्र के चुनाव प्रभारी जगदीश अग्रवाल की ओर मुखातिब होकर कहा मैंने विधायक रहते हुए सभी कार्यकर्ताओं के मान सम्मान पर खास ध्यान रखा।

अब आपकी बारी है कि चुनाव बाद भी कार्यकर्ताओं का मान सम्मान बना रहे। जैन पिछले 20 साल से लगातार इस सीट से विधायक रहे हैं। पिछले चुनाव में भी कांग्रेस उनको हरा नहीं सकी थी। अपराजित पहलवान की छबि उन्होंने बनाकर दिखाई।

1998 में वे कांग्रेस के राजेंद्र भारती से हार गए थे लेकिन इसके पहले 1990 और 93 के चुनाव में भी उन्होंने चुनाव जीतकर पार्टी के लिए यह सीट सुरक्षित गढ़ बना दी थी। इस बार पार्टी नेतृत्व ने उनका टिकट काट दिया था। इससे वे नाराज़ हो गए थे। उनका कहना था, पार्टी टिकट काटने से पहले एक बार पूछ लेती तो उन्हें कोई मलाल नहीं रहता।

उज्जैन में शहीद पार्क पर चुनावी सभा लेने के बाद होटल रुद्राक्ष में संभागीय बैठक के बाद शाह ने जैन से बंद कमरे में बात कर उनकी नाराजी दूर कर दी थी। इस कारण जैन भी पार्टी के प्रचार में पूरी ताकत से जुट गए हैं। इस दौरान उनके शब्दबाण पार्टी को अब भी कई राजनीतिक संदेश दे रहे।

Share This Article