Wednesday, February 1, 2023
Homeउज्जैन समाचारDrishyam 2 का क्लाइमेक्स उड़ा देगा होश

Drishyam 2 का क्लाइमेक्स उड़ा देगा होश

अजय देवगन-तब्बू स्टारर फिल्म ‘दृश्यम-2’ का फीवर लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है. फिल्म 18 नवंबर यानी कल रिलीज हो रही है. इससे पहले फिल्म के लिए जमकर एडवांस बुकिंग भी हो रही है. हर किसी को ये जानने कि एक्साइटमेंट है कि इस बार विजय सलगांवर किस तरह से पुलिस को गुमराह करेगा? क्या इस बार पुलिस को बॉडी मिल जाएगी? ‘दृश्यम-2’ का क्लाइमेक्स क्या होगा? यही जानने के लिए ऑडियंस काफी एक्साइटेड है.

ये एक्साइटमेंट ट्रेलर और टीजर को देखकर और ज्यादा बढ़ गया है क्योंकि टीजर के एंड में विजय सलगांवर कैमरे के सामने कुबूलनामा करता नजर आ रहा है. बता दें कि फिल्म में तब्बू, अजय देवगन, श्रिया सरन, अक्षय खन्ना और रजत कपूर नजर आएंगे. चलिए ‘दृश्यम 2’ की कहानी जानते हैं.

‘दृश्यम 2’ की कहानी क्या है?

‘दृश्यम 2’ की कहानी 7 साल के लीप के बाद शुरू होती है. यानी विजय और उसकी फैमिली को सात साल बाद फिर से समस्याएं झेलनी पड़ती हैं. सात सालों के दौरान विजय, उसकी पत्नी नंदिनी और बेटी अंजू नॉर्मल लाइफ की और बढ़ने की कोशिश करते हैं. इस दौरान विजय का बिजनेस भी अच्छा चल निकलता है और वह अपने इलाके में काफी फेमस भी हो चुका होता है. हालांकि कुछ लोग अब भी दबी जुबान में सात साल पहले के आईजी मीरा के बेटे के केस के बारे में बातें करते नजर आते हैं. वे कहते हैं कि विजय ने आईजी  के बेटे को मारकर इस तरह गायब किया की आज तक उसका पता नहीं चल पाया है.

वहीं सात साल बाद भी अंजू को समीर की हत्या बार-बार याद आती है. उसे दौरे भी पड़ते हैं और नंदिनी और विजय अपनी बेटी को संभालने की पूरी कोशिश करते हैं. इसी बीच नंदिनी की पड़ोस में रहने वाली फैमिली से अच्छी दोस्ती हो जाती है. एक दिन बातो-बातों में नंदिनी सात साल पहले समीर की हुई हत्या और परिवार की मिलीभगत के बारे में अपनी पड़ोस की सहेली को बता देती है. कहानी का ट्विस्ट ये होता है कि नंदिनी की पड़ोस वाली सहेली और उसका पति दोनों अंडरकवर पुलिस निकलते हैं.

कहानी आगे बढ़ती है और सात सात पहले विजय को थाने से निकलते हुए देखने वाला अपराधी भी जेल से छूट जाता है. वह विजय के बारे में पूछताछ करता है और उसे ये जानकर हैरानी होती है कि विजय और उसका परिवार बच कैसे गया. इधर नए आईजी को विजय और उसके परिवार का सच पता चलते ही वह आईजी मीरा को वापस बुला लेता है. इसी दौरान जेल से छूटा अपराधी भी पुलिस को विजय की सच्चाई बता देता है. जिसके बाद पुलिस इस अनुमान पर पहुंचती है कि विजय ने थाने में समीर की बॉडी को दफन किया होगा.

पुलिस एक बार फिर विजय और उसके परिवार से पूछताछ करती है. इस बीच बेटी अंजू की दिन ब दिन बिगड़ती हालत देख विजय पुलिस के सामने कुबूलनामा कर लेता है. हालांकि वह शर्त भी रखता है कि पुलिस उसके परिवार को कुछ नहीं कहेगी. लेकिन आईजी मीरा अपने बेटे के हत्यारों को सजा दिलाना चाहती हैं.

इसके बाद फिल्म में कोर्ट रूम की शुरुआत हो जाती है ट्रायल के दौरान पुलिस के पास विजय के खिलाफ सूबूत हैं. थाने के नीचे से निकला कंकाल, विजय को थाने से निकलता हुआ देखने वाला गवाह और भी कई ऐसे ही सुबूत पुलिस के पास हैं.

क्लाइमेक्स का ट्विस्ट कर देगा रौंगटे खड़े

अभी तक कहानी को देखते हुए यही लग रहा होगा कि पुलिस के पास सारे सुबूत हैं. लेकिन कहानी में खेल तो अब शुरू होता है. ‘दृश्यम 2’ का क्लाइमेक्स ऐसा है कि आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगें. क्या विजय को सजा होगी? आखिर फिल्म के क्लाइमेक्स का ट्विस्ट क्या है? ये राज जानने के लिए आपको 18 नवंबर 2022 का इंतजार करना होगा. इसके बाद सारा खुलासा हो जाएगा.

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर