Monday, January 30, 2023
Homeउज्जैन समाचारअपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए बच्चों की सुरक्षा की सौदेबाजी पर...

अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए बच्चों की सुरक्षा की सौदेबाजी पर उतरे ऑटो-मैजिक वाले

अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए बच्चों की सुरक्षा की सौदेबाजी पर उतरे ऑटो-मैजिक वाले

पालकों पर दबाव, लिखकर दे घटना की जवाबदारी हमारी…

आरटीओ बोले- हमने तो स्कूलों से मांगी है छात्रों को लाने ले जाने वाले वाहनों की जानकारी

उज्जैन।उन्हेल में हुए हादसे के बाद स्कूली वाहन में बच्चों की सुरक्षा के लिए प्रशासन और आरटीओ द्वारा की जा रही कार्रवाई से विचलित ऑटो-मैजिक चालक, बच्चों की सुरक्षा की सौदेबाजी पर उतर आए है। इसके लिए यह लिखकर देने के लिए पालकों पर दवाब बना रहे है कि वाहन में उनके बच्चे स्वयं की सहमति से भेज रहे हैं। इनकी पूरी जिम्मेदारी हमारी(पालकों की) होगी।

वाहन संचालकों का कहना है कि यह लिखित में होने के बाद ही बच्चों को अपने वाहन में लेकर जाएंगे। इधर आरटीओ का कहना है कि यह उचित नहीं है। हमने सभी निजी स्कूलों से उनके वहां आने वाले वाहनों और बच्चों की जानकारी देने को कहा है।

कुछ दिनों पूर्व नागदा-उन्हेल के बीच स्कूल वाहन हादसे में चार बच्चों की मौत हो गई थी। इसके बाद से ही परिवहन विभाग द्वारा लगातार स्कूल वाहनों की जांच की जा रही हैं। इससे ऑटो वालों ने दो दिन तक हड़ताल की और बच्चों को ले जाने से मना कर दिया। इससे अभिभावक परेशान हो गए।

अब ऑटो वाले अपनी जिम्मेदारी से बचाव के लिए अभिभावकों पर दबाव बनाकर वचन पत्र लिखवा रहे हैं। वाहन चालक अभिभावकों को यह लिखकर देने के लिए बाध्य कर रहे है कि पालक अपनी जिम्मेदारी पर उनके बच्चों को वाहन में भेज रहे हैं। इस बीच ऑटो वालों ने अभिभावकों पर दबाव बनाकर लिखवा लिया कि हम अपनी जिम्मेदारी पर अपने बच्चों को इस वाहन से स्कूल भेज रहे हैं। किसी प्रकार की कोई दुर्घटना होती है तो ऑटो चालक की जिम्मेदारी नहीं होगी।

स्कूल को देना है जानकारी

आरटीओ संतोष मालवीय ने कहा है कि यदि कोई वाहन स्कूल से अनुबंधित नहीं है, लेकिन वह स्कूल के बच्चों को लाने ले जाने के काम में संलग्न है तो स्कूल प्रबंधन की जिम्मेदारी है कि वह इसकी सूचना परिवहन विभाग को दे। इसकी क्रम में हमने सभी स्कूलों से उनके वहां बच्चों को लाने ले जाने वाले वाहनों और बच्चों की जानकारी मांगी है। जहां तक वाहन संचालकों द्वारा लिखित में जिम्मेदारी लेने के लिए पालकों को बाध्य करने का प्रश्न है कोई भी वाहन चालक ऐसा नहीं कर सकता है।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर