Wednesday, May 18, 2022
Homeकरियरकरियर प्लानिंग क्यों है जरूरी? जानें इसके फायदे

करियर प्लानिंग क्यों है जरूरी? जानें इसके फायदे

हर कोई सफलता के शिखर पर पहुंचना चाहता है, इसके लिए लोग देश-विदेश के अच्‍छे कॉलेज से एजुकेशन भी हासिल करते हैं, लेकिन इसके बाद भी कुछ ही लोग होते हैं जो निर्धारित लक्ष्य के अनुसार अपना करियर बना पाते हैं। इस असफलता के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन इसके मुख्‍य कारणों में से एक है व्‍यवस्थित तरीके से करियर प्‍लानिंग न करना। करियर प्‍लानिंग एक व्यवस्थित प्रक्रिया है जिसके द्वारा कोई व्यक्ति अपने करियर के लक्ष्यों और इन लक्ष्यों के लिए रास्ता चुनता है। अगर आप भी अपने करियर को लेकर कंफ्यूज हैं, तो इन टिप्‍स के माध्‍यम से आप उसकी प्‍लानिंग कर सकते हैं।

क्‍या है करियर प्‍लानिंग
कोई भी व्‍यक्ति अपना करियर किसी संगठन, कंपनी व अपने चुने हुए फील्‍ड में बनाता है। किसी संगठन के भीतर करियर प्‍लानिंग कार्मिक प्रशासन का वह हिस्सा है, जिसका उद्देश्य ऐसे रास्तों को विकसित करना है, जहां कर्मचारी समय के साथ संगठन में आगे बढ़ सके। किसी भी कंपनी में करियर पथ प्रत्येक व्यक्ति के लिए डिज़ाइन नहीं किया जाता, बल्कि जॉब करने वाले व्यक्तियों के पास खुद की अपनी आवश्यकताओं, क्षमता, रुचि आदि के आधार पर अपना रास्‍ता बनाना पड़ता है।

करियर प्‍लानिंग के फायदे व महत्‍व

पहले खुद को समझें
करियर प्‍लानिंग के लिए अपने आप को समझना बहुत जरूरी है। इसलिए अपने लिए कुछ समय निकालें और उन सभी कामों की सूची बनाये, जो आप करना चाहते हैं। फिर, उन चीजों की सूची बनायें, जिन्हें आप नहीं करना चाहते हैं। इस तरह से आप खुद को समझकर अपने सही जुनून का अंदाजा आसानी से लगा सकते है।

अपने समय का ध्‍यान रखें
ब्राइट करियर के लिए, सब कुछ पहले से प्लान करने से आप अपना काफी समय बचा सकते है। ऐसा करने से, जैसे-जैसे आप आगे बढ़ते जाएंगे, आपको हर चीज पर नज़र रखना आसान होगा, इसलिए अपना समय बचाने के लिए अपनी करियर प्लानिंग जरुरी है।

विकसित करें फोकस करने की क्षमता
पहले से करियर की प्लानिंग करने से आपके मन में तरह-तरह के विचार और भ्रम दूर हो जाते हैं। एक सही प्लानिंग के साथ, आप उन सभी चीजों पर पूरा ध्यान दे सकते हैं जो आपके लिए मायने रखती हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि सही नियोजन से समय और संसाधनों की बर्बादी नहीं होती है।

आत्मविश्वास बढ़ाना
करियर प्लानिंग से, आप एक बेहतर निर्णय लेने वाला व्यक्ति बन सकते है। भविष्य में ऐसे गुण की आपको उतनी ही आवश्यकता होगी जितनी अभी आपको आवश्यकता है। बेहतर निर्णय लेने से आप अनावश्यक परीक्षाओं से बच सकेंगे और एक बेहतर विकल्प खोजने में पूरे आत्मविश्वास के साथ सक्षम हो सकेंगे।

इस तरह करें करियर प्‍लानिंग खुद का मूल्यांकन करें

  1. करियर प्‍लानिंग के लिए पहला कदम है खुद का मूल्यांकन और फिर स्वतः निर्धारण यानि सबसे पहले आपको अपनी रुचि, नापसंद, कमजोरी, ताकत आदि सब का पता लगाना है। इनके जवाब खोजने के लिए, आपको खुद से ही कुछ सवाल पूछने है, जैसे
  2. मुझे सबसे ज्यादा क्या पसंद है।
  3. वास्तव में, क्या मुझे प्रेरित करता है।
  4. मेरी ताकत और कमजोरियां क्या हैं।
  5. मैं भविष्य में खुद को क्या देखना चाहता हूं।
  6. मुझे खुद से क्या उम्मीद है।

अपने करियर विकल्पों की सूची बनाकर कंपेयर करें
अपने लिए संभावित कुछ करियर विकल्पों का पता लगाने के बाद, आपको इन विकल्पों कि एक सूची बनाने कि आवश्यकता है। उदाहरण के लिए, यदि आप पायलेट बनना चाहते हैं, तो उसे करियर विकल्‍प में शामिल कर सकते हैं। आपके पास शेष बचे जितने भी करियर विकल्प सूची में हैं, आप उनकी आपसी तुलना अपने ज्ञान के बल पर करें। शेष बचे विकल्पों की अच्छी और बुरी सभी बातो की एक सूची बनाएं।

अच्छे विकल्पों को प्राथमिकता दे
सभी संभावित करियर विकल्पों कि सूची बनाने के बाद, जो विकल्प आपकी रुचि के अनुरूप नहीं हैं उन विकल्पों को सूची से हटा सकते हैं। फिर आपके पास केवल वही करियर विकल्प बचेंगे जिन्हें आप वास्तव में बड़े होने के रूप में अपनाना चाहते हैं। इस काम के लिए आप अपने परिवार, मित्र, करियर काउंसलर व इंटरनेट से मदद ले सकते हैं। इस प्रक्रिया के अंत में, आप एक सही और निश्चित करियर विकल्प पर टिके रहने में सक्षम हो पाएंगे

बेहतर रिसर्च करें
बिना कोई रिसर्च किये एक अच्छा करियर विकल्प चुनना और उससे जुडी सभी संभावनाओं को जानना लगभग असंभव होता है। इसलिए, अच्छी तरह से रिसर्च करें और फिर कोई निष्कर्ष निकालें। रिसर्च करने के बाद, आप सिर्फ ऐसे ही एक करियर विकल्प पर टिके रहें जो आपकी रुचि को अच्छे तरीके से पूरा करे।

अपने लक्ष्यों को बांटे
अपने लक्ष्यों और उद्देश्यों को कई भागो में बांटे और सभी अल्पकालिक और दीर्घकालिक लक्ष्यों की पहचान करें। अपने लिए किसी एक करियर विकल्‍प की पहचान करने के बाद, आप उसे लागू करने की प्लानिंग कर सकते हैं।

एक एक्शन प्लान बनाएं
पहले एक रफ प्लान बनाये, फिर उस पर एक एक्शन प्लान तैयार करें। अपनी उम्मीदों को हमेशा ऊंचा रखें लेकिन जितना हो सके व्यावहारिक बनने की कोशिश करें। उन सभी स्किल का एक विस्तृत ले-आउट तैयार करे जिन्हें आप हासिल करना चाहते हैं और जिन अवसरों में आप भाग लेना चाहते हैं। और, उन्हें समय-समय पर संशोधित करें और उन कार्यों की जांच करें जिन्हें आपने पहले ही पूरा कर लिया है।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर