Monday, January 30, 2023
Homeउज्जैन एक्टिविटीचामुंडा माता मंदिर के नाम एक साथ दो गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड...

चामुंडा माता मंदिर के नाम एक साथ दो गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड

शाही सवारी पर 28 क्विंटल खिचड़ी 35 हजार भक्तों को वितरित कर बनाया इतिहास

उज्जैन। 22 अगस्त को सोमवार को निकली बाबा महाकाल की शाही सवारी के दौरान चामुंडा माता मंदिर के नाम एक साथ दो गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड दर्ज हुए। अब तक की सबसे ज्यादा 28 क्विंटल 700 ग्राम साबुदाना खिचड़ी बनाकर 35 हजार भक्तों को वितरण भी किया गया। द गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड के डॉ. मनीष विश्नोई एवं उनकी टीम द्वारा इन रिकॉर्ड को बनाने वाले श्री मां छत्रेश्वरी चामुंडा माता मंदिर भक्त समिति के संयोजक पं. शरद चौबे, पं. सुनील चौबे, पं. निखिल चौबे एवं वरिष्ठ सदस्य राजेन्द्र शाह के नाम दर्ज रिकॉर्ड के प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।

इस अवसर पर ओमप्रकाश दनोत, पं. वेदांत चौबे, गोपालसिंह चौहान, शैलेंद्र द्रोणावत, मोंटी मिश्रा, घनश्याम राठौड़, दुष्यंत आर्य, महेंद्र सेन मौजूद रहे। शाही सवारी के अवसर पर सबसे अधिक मात्रा में फरियाली खिचड़ी बनाने के साथ ही एक साथ सबसे अधिक मात्रा में साबुदाना खिचड़ी वितरण की गई।

इस ऐतिहासिक प्रकल्प के पूर्ण होने में चामुंडा माता मंदिर समिति के सदस्य रमेश टेमनिया, सुनील नागर, किशोर मुलानी, ऋषि पटेरिया, पं. वरुण पंड्या आदि का सहयोग रहा। विष्णु गुप्ता उस्ताद की टीम द्वारा खिचड़ी बनाने का काम किया गया।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर