Tuesday, August 9, 2022
Homeधर्मं/ज्योतिषGuru Purnima 2022: इस बार गुरु पूर्णिमा के दिन बन रहा है...

Guru Purnima 2022: इस बार गुरु पूर्णिमा के दिन बन रहा है राजयोग! ये काम करते ही दूर होंगी सारी बाधाएं-परेशानियां

गुरु पूर्णिमा 13 जुलाई दिन बुधवार को है. इस पूर्णिमा को आषाढ़ पूर्णिमा या गुरु पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है. इस दिन गुरु की पूजा का विशेष महत्व होता है. धार्मिक शास्त्रों के अनुसार गुरु को भगवान से भी श्रेष्ठ माना जाता है, क्योंकि गुरु ही भगवान तक पहुंचने का मार्ग बताते हैं.

गुरु पूर्णिमा के दिन वेदव्यास का जन्मदिन मनाया जाता है.वेदव्यास संस्कृत के महान ज्ञाता थे. सभी 18 पुराणों के रचयिता भी महर्षि वेदव्यास को माना जाता है. वेदों को विभाजित करने का श्रेय भी महर्षि वेद व्यास को दिया जाता है. साथ ही ऐसी मान्यता है कि गुरु पूर्णिमा के दिन कुछ विशेष उपाय करके सारी बाधाएं-परेशानियां को दूर कर सकते है|

गुरु पूर्णिमा पर बने रहे हैं शुभ राजयोग

ज्योतिशास्त्र के मुताबिक इस दिन मंगल, बुध, गुरु और शुक्र की दशा के कारण भद्र, रुचक, हंस और शश नाम के राजयोग बन रहे हैं। जहां बुधादित्य योग इस दिन को और भी शुभ बना रहा है, वहीं शुक्र दैत्य शुरू है, उनकी दशा भी काफी शुभ है। गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु के आशीर्वाद और उसके मजबूत होने से जीवन में सफलता, तरक्की, कीर्ति और यश की प्राप्ति होती है। कुंडली में गुरु की दशा अच्छी होने से जीवन में तरक्की हासिल होती है। गुरु पूर्णिमा के दिन इन ज्योतिष उपायों से कुंडली में गुरु को मजबूत किया जा सकता है।

परेशानियां-बाधाएं दूर करने के लिए गुरु पूर्णिमा पर करें ये उपाय

गुरु पूर्णिमा के दिन बन रहे बेहद शुभ योग के चलते इस दिन किए गए पूजा-उपाय कई गुना ज्‍यादा फल देंगे. लिहाजा अपने गुरु की कृपा पाने के लिए और कुंडली में गुरु ग्रह को मजबूत करने के लिए इस दिन पूजा जरूर करें.

  • सफलता प्राप्ति के उपाय

इस दिन मां लक्ष्मी- नारायण मंदिर में कटा हुआ गोल नारियल जरूर अर्पित करें. ऐसा करने से बिगड़े हुए कार्य बनने की मान्यता है. अगर आपके कुंडली में गुरु दोष है तो भगवान विष्णु की श्रद्धापूर्वक पूजा करें. इस दिन जरूरतमंदों को दान जरूर दें. आर्थिक समस्या चल रही है तो आप इस दिन जरूरतमंद लोगों को पीली मिठाई, पीले वस्त्र आदि दान में दें. इस दिन अपने से बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद जरूर लें.

  • भाग्योदय के उपाय

जिन लोगों का आर्थिक स्थिति नहीं सुधर रही है उन लोगों को गुरु पूर्णिमा के दिन जरूरतमंद लोगों को पीला अनाज दान करना चाहिए. इसके साथ ही पीली मिठाई प्रसाद के रूप में बांटनी चाहिए. ऐसा करने से आपका भाग्य चमक सकता है.

  • पढ़ाई में आ रही बाधा दूर करने के उपाय

जिन विद्यार्थियों को पढ़ाई में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है या पढ़ाई में मन नहीं लगता है. ऐसे जातकों को गुरु पूर्णिमा के दिन गीता का पाठ करना चाहिए और गाय की सेवा करनी चाहिए. इस उपाय से अध्ययन में आ रही बाधाएं दूर हो जाएंगी.

  • विवाह मेंआ रही परेशानी को दूर करने के उपाय

जिन जातकों के वैवाहिक जीवन में दिक्कतें आ रही हैं अथवा शादी-विवाह नहीं हो रहा है ऐसे जातकों को गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु यंत्र को स्थापित कर उसकी विधिवत पूजा करनी चाहिए. यह उपाय आपको कई क्षेत्रों में सफलता दिलाएगी और वैवाहिक जीवन से जुड़ी सभी परेशानियां खत्म हो जाएगी.

गुरु पूर्णिमा की कथा

महर्षि वेदव्यास बाल्यकाल में अपने माता-पिता से प्रभु दर्शन की इच्छा प्रकट की लेकिन माता सत्यवती ने वेदव्यास की इच्छा को ठुकरा दिया.तब वेदव्यास के हठ पर माता ने वन जाने की आज्ञा दे दी और कहा कि जब घर का स्मरण आए तो लौट आना. इसके बाद वेदव्यास तपस्या हेतु वन चले गए और वन में जाकर उन्होंने कठिन तपस्या की. इस तपस्या के पुण्य-प्रताप से वेदव्यास को संस्कृत भाषा में प्रवीणता हासिल हुई. तत्पश्चात उन्होंने चारों वेदों का विस्तार किया और महाभारत, अठारह महापुराणों सहित ब्रह्मसूत्र की रचना की. महर्षि वेद व्यास को चारों वेदों का ज्ञान था. यही कारण है कि इस दिन गुरु पूजने की परंपरा सदियों से चली आ रही है.

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर