Thursday, November 30, 2023
Homeदेशश्रद्धा हत्याकांड जैसी वारदात, मार्बल कटर से बॉडी काटी , टुकड़े जंगल...

श्रद्धा हत्याकांड जैसी वारदात, मार्बल कटर से बॉडी काटी , टुकड़े जंगल में फेंके

दिल दहला देने वाली घटना,मार्बल कटर से बॉडी काटी

राजस्थान में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक साइको किलर भतीजे ने अपनी विधवा ताई की बेरहमी से हत्या कर दी। इतना ही नहीं हत्या करने के बाद मार्बल कटर मशीन से शव के टुकड़े-टुकड़े कर जंगलों में फेंक दिया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही शव के कुछ टुकड़े भी बरामद किए हैं।

काटने के लिए मशीन खरीदी

दरअसल, जयपुर के विद्याधरनगर इलाके के लालपुरिया अपार्टमेंट सेक्टर-2 में एक ऐसा ही नजारा सामने आया है। यहां सनकी भतीजे अनुज ने 11 दिसंबर को अपनी 64 वर्षीय ताई सरोज शर्मा के सिर पर हथौड़े से वार कर हत्या कर दी। इसके बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए ग्राइंडर मशीन खरीदी और उसके टुकड़े-टुकड़े कर दिए। इन टुकड़ों को सूटकेस और बाल्टियों में भरकर कार से जंगल में फेंक दिया गया।

पुलिस हिरासत में आरोपी घर के बाथरूम में मशीन से बनाए 10 पीस

बताया जा रहा है कि आरोपी ने घर के बाथरूम में ही मशीन के 10 टुकड़े कर दिए और फिर ठिकाने लगा लिए। इसके बाद कहानी बनाकर थाने पहुंचा और ताई की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

आरोपी किचन में खून के धब्बे धो रहा था

इसी दौरान आरोपी घर के किचन में खून के धब्बे धो रहा था, तभी वहां किसी ने पूरा नजारा देख लिया और घटना की भनक लग गई। इसके बाद मृतक की बेटी पूजा ने आरोपी के खिलाफ थाने में मामला दर्ज कराया, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया.

पुलिस हिरासत में आरोपी इससे वह आपा खो बैठा और हत्या कर दी

बता दें कि आरोपी अनुज ने बीटेक की पढ़ाई की है। उन्हें 11 दिसंबर को दिल्ली जाना था, लेकिन ताई ने मना कर दिया। इससे वह आपा खो बैठा और हत्या कर दी। जैसे दिल्ली के श्रद्धा हत्याकांड में उसने हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए हार्डवेयर की दुकान से मार्बल कटर मशीन खरीदी थी.

इस पूरे प्रकरण के बारे में डीसीपी नॉर्थ पेरिस देशमुख ने बताया, ‘महिला के पति की मौत के बाद उसका भतीजा अनुज उसकी देखभाल करता था. अनुज का सारा खर्च सरोज देवी उठाती थीं। सरोज का एक बेटा और दो बेटियां हैं, जिसमें बेटा विदेश में है। में रहता है”।

आगे बताया, ‘जांच में यह बात सामने आई है कि अनुज को अपनी मां के बार-बार टोकने पर बुरा लगता था। इसलिए उसने रसोई में काम करने के दौरान उसके सिर पर हथौड़े से वार किया और फिर शव को बाथरूम में ले जाकर दिल्ली रोड पर टुकड़े-टुकड़े कर दिया।’ लेकिन उन्हें जंगलों में अलग-अलग जगहों पर फेंक दिया। हत्यारों ने महिला के सिर और पैरों को एक जगह, धड़ को दूसरी जगह और फिर हाथ-पैरों के हिस्सों को तीसरी जगह फेंक दिया.

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर