Sunday, May 22, 2022
Homeउज्जैनउज्जैन:तेजनकर अस्पताल के वार्ड बॉय ने पेशेंट को मारा थप्पड़

उज्जैन:तेजनकर अस्पताल के वार्ड बॉय ने पेशेंट को मारा थप्पड़

पेशेंट की नीडल निकलने की शिकायत पर हुआ था विवाद

परिजनों का आरोप:बिना रिपोर्ट लिखे मामला निपटाने की फिराक में थी नीलगंगा थाने की पुलिस, विवाद बढ़ा तो करनी पड़ी एफआईआर

उज्जैन। माधव क्लब रोड स्थित तेजनकर अस्पताल में भर्ती पेशेंट को वहीं पदस्थ वार्ड बॉय ने के थप्पड़ मार दिया। मामले की शिकायत नीलगंगा खाने में करने के बावजूद पुलिस द्वारा वार्ड बॉय पर प्रकरण दर्ज नहीं किए जाने को लेकर विवाद की स्थिति भी बनी । बाद में पुलिस ने 2 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

नीलगंगा पुलिस ने बताया कि माधव क्लब रोड स्थित तेजनकर अस्पताल में पेशेंट भर्ती था उसके हाथों में लगी नीडल निकलने पर परिजन योगेंद्र सिंह ने वार्ड बॉय को नीडल लगाने के लिए बुलाया देरी होने पर वार्ड बॉय दशरथ से कहासुनी होने के बाद दशरथ ने पेशेंट को थप्पड़ मार दिया। विवाद बढ़ने पर मामला थाने पहुंचा जहां पेशेंट के परिजनों ने वार्ड बॉय दशरथ और रोहित की शिकायत पुलिस से की लेकिन पुलिस ने मामले में प्रकरण दर्ज करने में आना कानी करने लगी। इसको लेकर एक संगठन द्वारा थाने का घेराव किया गया। मामला बढ़ता देख पुलिस अफसरों ने वार्ड बॉय दशरथ और रोहित के खिलाफ मारपीट का प्रकरण दर्ज किया है।

यह था मामला

शाजापुर जिले के ग्राम धतुरिया में रहने वाले योगेंद्र सिंह की बहन सड़क दुर्घटना में घायल हुई थी। जिन्हें उपचार के लिए तेजनकर अस्पताल में भर्ती कराया गया था वार्ड बॉय द्वारा महिला पेशेंट से मारपीट व अभद्रता की शिकायत अस्पताल प्रबंधन से किए जाने के बावजूद तेजनकर अस्पताल के कर्ता धरताओं द्वारा मामले को गंभीरता से नहीं लिया गया। अस्पताल प्रबंधन के इस रवैए को वजह से विवाद बढ़ा और करणी सेना के पदाधिकारियों को मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा।

मैं अस्पताल की प्रवक्ता नही, मामला झूठा – शीतल तेजनकर

अस्पताल प्रबंधन में शीर्ष स्तर पर भूमिका निभा रहीं शीतल तेजनकर से जब इस विषय में चर्चा की तो वे नाराज हो गईं, उनका कहना था कि मैं अस्पताल की प्रवक्ता नही हूं और जिस घटना की आप बात कर रहे हैं ऐसा कोई वाकया हमारे यहां नही हुआ।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर