Wednesday, February 1, 2023
Homeउज्जैन समाचारउज्जैन में 20 से अधिक बिजली उपभोक्ताओं के साथ हो चुका है...

उज्जैन में 20 से अधिक बिजली उपभोक्ताओं के साथ हो चुका है फ्रॉड…

उपभोक्ताओं को ठगी से बचाने के लिए विद्युत कंपनी गंभीर नहीं

केवल जागरूकता का संदेश दे रहीं, पुलिस सायबर सेल को कार्रवाई के लिए पत्र भी नहीं लिखा

उज्जैन।विद्युत कंपनी अपने सेवाओं को ऑनलाइन कर रहीं है,तो दूसरी तरफ उपभोक्ता ऑनलाइन ठगी के शिकार हो रहे है। बिजली उपभोक्ताओं को ठगी से बचाने के लिए विद्युत कंपनी गंभीर नहीं है।

केवल उपभोक्ताओं को जागरूकता का संदेश दे रही। कंपनी ने इस संबंध में अपनी ओर से कोई कार्रवाई करना तो दूर अभी तक पुलिस सायबर सेल को पत्र नहीं लिखा है। अपराध रोकने के लिए किसी विशेषज्ञ की मदद भी लेना उचित नहीं समझा है।

शहर में विद्युत उपभोक्ताओं को मोबाइल पर बिजली काटने के फर्जी एमएमएस लगातार भेजे जा रहे हैं। उज्जैन में अभी तक 20 से अधिक बिजली उपभोक्ताओं के साथ इस तरह का एसएमएस फ्रॉड हो चुका है। मुख्य अभियंता विद्युत कंपनी उज्जैन द्वारा अब तक ना तो साइबर शाखा प्रभारी और ना ही पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखाहै।

बता दें कि विद्युत विभाग अब हाइटेक हो रहा है, 80 प्रतिशत उपभोक्ता अब मोबाइल के माध्यम से बिल जमा कर रहे हैं। इसके साथ ही विद्युत विभाग में मोबाइल पर ही लोगों को उनके बिल भेज रहा हैं।

हमारे पास अभी तक कोई पत्र नहीं आया: साइबर शाखा उज्जैन के प्रभारी अधिकारी प्रतीक यादव ने बताया कि विद्युत उपभोक्ताओं से साथ हो रही ठगी को लेकर बिजली कंपनी ने पत्र नहीं लिखा है। हमारे द्वारा समय-समय लोगों को सजग और सावधान रहने के लिए एडवाइजरी जरूर जारी की जाती है।

जिम्मेदारों ने की केवल व्हाट्सएप पर ही अपील

इस संबंध में विद्युत कंपनी के मुख्य अभियंता बीएल चौहान का कहना है कि इस तरह की शिकायत मिलने के बाद कंपनी के अधिकारियों के जरिए जोन स्तर पर व्हाट्स नंबर पर ही लोगों से सजग रहने की अपील की गई है। अगर आपको इस तरह का मैसेज आता है तो तत्काल इसकी सूचना संबंधित जोन कार्यालय पर दें।

विद्युत कंपनी केवल बिल लम्बित होने के बारे में ही सूचना देता है, ना कि कनेक्शन काटने की चेतावनी देता है। साथ ही किसी नम्बर विशेष पर संपर्क करने को भी नहीं कहा जाता है। बिजली बिल को लेकर संशय होने पर नजदीकी विद्युत कार्यालय पर संपर्क करें।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर