उज्जैन : युवक की आत्महत्या के 11 माह बाद महिला पर केस

By AV NEWS

सुसाइड नोट मिलने के बाद भी मामला दबाया, कोर्ट ने दिए निर्देश

उज्जैन। नीलगंगा थाना क्षेत्र में रहने वाले 22 वर्षीय युवक ने 20 अगस्त 21 को जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने मृतक के पास से सुसाइड नोट बरामद किया, लेकिन आरोपी का नाम मिलने पर भी कार्रवाई नहीं की। मृतक के परिजनों ने कोर्ट में फरियाद लगाई जिसके निर्देश पर चिमनगंज पुलिस ने महिला व अन्य लोगों के खिलाफ धारा 306 का केस दर्ज किया है।

यह था मामला :

आशीष पिता रामचंद्र नामदेव 22 वर्ष निवासी नीलगंगा चौराहा ने 20 अगस्त 21 को सपना पांचाल निवासी सांदीपनि नगर के घर जहरीला पदार्थ खा लिया था। उसकी मां विमलाबाई ने गंभीर हालत में आशीष को जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां आशीष की मृत्यु हो गई। नीलगंगा पुलिस ने अस्पताल से मिली सूचना पर मर्ग कायम कर जांच शुरू की। मृतक के पास से एक सुसाइड नोट मिला जिसमें सपना पांचाल व अन्य लोगों द्वारा प्रताडि़त करने की बात लिखी थी।

पुलिस ने मृतक के परिजनों के बयान भी लिये और कुछ दिन बाद जांच खत्म कर किसी के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं किया। इस पर आशीष के परिजनों ने कोर्ट में केस दायर किया जहां से कोर्ट ने घटना स्थल चिमनगंज थाना क्षेत्र का होने पर चिमनगंज पुलिस को मामले में कायमी कर जांच के निर्देश दिये। एसआई करण खोईवाल ने बताया कि मामला प्रेम प्रसंग से जुडा होना सामने आया है जिसकी जांच की जा रही है।

Share This Article