Monday, January 30, 2023
Homeउज्जैन समाचारनैक से 'बी++ ग्रेड' प्राप्त विक्रम विवि का अनोखा काम

नैक से ‘बी++ ग्रेड’ प्राप्त विक्रम विवि का अनोखा काम

परिणामों के अगले दिन से परीक्षा 3 जनवरी तक चलेंगी…

उज्जैन। नैक से ‘बी++ ग्रेड’ प्राप्त विक्रम विश्वविद्यालय एक और नया काम कर दिया। पुर्नमूल्यांकन परिणाम घोषित करने के अगले ही दिन से पूरक और विशेष अवसर की परीक्षाएं प्रारंभ कर दी। परिणाम घोषित नहीं होने के कारण तीन बार पहले निरस्त की गई परीक्षा के पर्चे कब होंगे यह भी अभी स्पष्ट नहीं है। विवि की इस कार्यप्रणाली के विरोध में छात्रों द्वारा प्रदर्शन कर पुतला जलाया गया।

विक्रम विश्वविद्यालय में तीन बार स्थगित हुई पूरक और विशेष अवसर की परीक्षाएं गुरुवार को प्रारंभ हो गई। हर जिले में एक परीक्षा केंद्र बनाया, 3 जनवरी तक चलेंगी परीक्षाएं। इसमें खास बात यह कि पुर्नमूल्यांकन परिणाम को पूरक और विशेष अवसर की परीक्षाओं के चंद घंटे पहले ही घोषित किए गए। पूरक और विशेष अवसर की परीक्षाएं अब 15 दिसंबर से दो पाली में होंगी। सुबह 11 से 2 और दोपहर 3 से 6 बजे तक। परीक्षा के लिए विवि परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले प्रत्येक जिले में अग्रणी कॉलेज को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। परीक्षा में द्वितीय और तृतीय वर्ष के करीब 6 हजार से अधिक विद्यार्थी शामिल होंगे।

बतो दें कि बीए, बीकॉम, बीएससी, बीकॉम ऑनर्स, बीएचएससी, बीबीए, बीसीए, द्वितीय और तृतीय वर्ष पूरक और विशेष अवसर की परीक्षाएं पुर्नमूल्यांकन परिणाम घोषित नहीं होने के कारण तीन बार स्थगित की गई थी। कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पांडे ने बताया कि स्थगित परीक्षाएं अब 15 दिसंबर से शुरू हो रही है। परीक्षा की पूरी तैयारी कर ली गई है। जो पेपर कैंसिल हुए हैं, वे आखिरी में कराएंगे।

रिजल्ट आया नहीं, परीक्षा में कैसे बैठें

विक्रम विश्वविद्यालय के प्रशासनिक परिसर में एनएसयूआई ने पुतला जलाकर प्रदर्शन किया। छात्रों का कहना था कि पुर्नमूल्यांकन के परिणाम एक दिन पहले घोषित किए और अगले दिन परीक्षा आयोजित कर दी। अन्य जिलों के छात्र आवेदन भरने के लिए भटक रहे हैं। विक्रम विश्वविद्यालय में पुर्नमूल्यांकन के बाद परिणाम में सुधार कराने के लिए छात्र-छात्राएं विश्वविद्यालय में परेशान हो रहे थे।

ऐसे कई छात्र थे जिनके परीक्षा आवेदन नही खुल रहे थे। एनएसयूआई के प्रीतेश शर्मा, जिलाध्यक्ष अंबर माथुर, युवा कांग्रेस के बबलू खींची का कहना था कि पहले छात्रों के आवेदन फार्म की लिंक खोले फिर परीक्षा कराएं। इस दौरान विश्वविद्यालय कोई अधिकारी के मौजूद नही होने पर हंगामा कर दिया। नारेबाजी कर परिसर में पुतला जलाया। हालांकि कुछ देर बाद ही कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पांडे यहां पहुंचे थे। चर्चा के दौरान ही कुलपति और छात्र नेताओं की बहस हुई। कुलपति ने कहा कि किसी भी छात्र को परीक्षा से वंचित नही होने देंगे।

परीक्षा के लिए संभाग में 7 केंद्र निर्धारित किए- 

  • सुमन मानविकी भवन: उज्जैन जिले के विद्यार्थी 
  • शा.केपी कॉलेज देवास: देवास जिले के विद्यार्थी 
  • शा.बीएसएन कॉलेज शाजापुर: शाजापुर जिले के विद्यार्थी
  • शा.राजीवगांधी कॉलेज मंदसौर: मंदसौर जिले के विद्यार्थी 
  • शा.कला एंव सांईस कॉलेज रतलाम: रतलाम जिले के विद्यार्थी 
  • शा. कॉलेज नीमच: नीमच जिले के विद्यार्थी 
  • शा. कॉलेज आगर: आगर जिले के विद्यार्थी

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर