पटाखे जलाने की बात पर पड़ोसियों के बीच विवाद, केस दर्ज

By AV NEWS

एक पक्ष के सात और दूसरे पक्ष से 2 लोग घायल , 7 लोगों पर प्रकरण दर्ज

अक्षरविश्व न्यूज . उज्जैन:महाकाल थाना क्षेत्र स्थित कार्तिक चौक में साहू धर्मशाला के सामने रहने वाले दो परिवारों में पटाखा जलाने की बात पर विवाद हो गया। इसमें 9 लोगों को चोट लगने पर जिला अस्पताल में भर्ती किया गया।

पुलिस ने बताया कार्तिक चौक साहू धर्मशाला के सामने रहने वाले सुधीर जोशी की शिकायत पर महेंद्र सिंह, परमसिंह, बक्षीसङ्क्षसंह, छतरसिंह, मोंटूसिंह, बलङ्क्षवदर सिंह और अमन के खिलाफ धारा 147 , 148 सहित मारपीट की अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। हमले में जोशी परिवार की 2 महिलाओं सहित 7 लोग घायल हैं। जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है।

अस्पताल में भर्ती अनिल जोशी इंजन वाला पंडा ने बताया कि उनकी बहू प्रियंका का बेटा चंदन घर के बाहर पटाखे जला रहा था। पड़ोस में रहने वाला बक्षीससिंह और महेंद्र ने उसे पटाखे जलाने से मना करते हुए गाली-गलोज करने लगा। इस पर बहू प्रियंका ने अपशब्द बोलने से मना किया तो आरोपी महेंद्र ने और ज्यादा गाली गलोज करते हुए बेटे से मारपीट करना शुरू कर दी।

बहू बचाने और साथ में चाची लक्ष्मी जोशी बचाने गई तो उन पर भी वार कर दिए। इस पर अनिल जोशी, उनका बेटा अधिक नारायण, राधेश्याम आदि शोर सुनकर बाहर आए तो आरोपियों ने हथियार निकालकर पूरे परिवार पर हमला कर दिया।

सिख परिवार के दो युवक भर्ती

सिख परिवार के बक्षीससिंह व एक अन्य जिला अस्पताल के हड्डी वार्ड में भर्ती हैं। बक्षीसङ्क्षसंह ने बताया कि वे दिनभर काम कर थककर सोए थे। रात 10:30 बजे पड़ोसी का बेटा पटाखे जलाकर उनके घर पर फेंक रहा था। उसने नींद से उठकर उसे घर के सामने पटाखे जलाने से मना किया तो पूरा परिवार विवाद करने लगा। बक्षीससिंह ने जोशी परिवार पर मारपीट करने का आरोप लगाया है।

पहले भी हो चुका विवाद

अस्पताल में भर्ती अनिल जोशी ने बताया कि पास रहने वाले परिवार के लोगों से पूर्व में भी विवाद हो चुका है। बक्षीससिंह का घर के अंदर बर्तन बनाने का कारखाना है । जिससे मशीन चलने पर दिनभर ठोका-पिटी की आवाज आती है। इसकी वजह से डिस्टर्बेंस होता है। जोशी परिवार ने पड़ोसियों से कहा था कि रहवासी क्षेत्र में इस तरह की मशीने नहीं लगाई जा सकती है।

Share This Article