Sunday, May 22, 2022
Homeउज्जैनसीआईडी अफसर बन किसान से 50 हजार ठगे

सीआईडी अफसर बन किसान से 50 हजार ठगे

गेहूं की फसल बेचकर मोहन नगर चौराहे पर कर रहा था बस का इंतजार

उज्जैन।तराना से गेहूं की फसल बेचने आया किसान फसल बेचने के बाद मोहन नगर चौराहे पर बस का इंतजार कर रहा था। उसी दौरान एक बाइक पर सवार होकर दो युवक पहुंचे। स्वयं को सीआईडी अफसर बताया और तलाशी के बहाने उसके झोले में रखे 50 हजार रुपये उड़ा दिये।
बाबूलाल पिता नाथूलाल निवासी तराना ट्रैक्टर-ट्राली से गेहूं बेचने चिमनगंज मंडी आया था। यहां फसल बेचने के बाद उसने 1 लाख 9 हजार रुपये झोले में रखे और पैदल मोहन नगर चौराहे पर पहुंचकर गांव लौटने के लिये बस का इंतजार करने लगा।

बाबूलाल ने बताया कि ट्रैक्टर-ट्राली खली लेने गई थी। इसी दौरान पल्सर बाइक पर हेलमेट और मास्क लगाकर दो युवक बाबूलाल के पास पहुंचे। स्वयं को सीआईडी अफसर बताया और कार्ड दिखाने के बाद तलाशी लेने लगे। एक युवक ने बाबूलाल को बातों में उलझाया तभी दूसरे युवक ने उसके झोले में रखे 500 के नोट की 50 हजार रुपयों की गड्डी चोरी कर ली। तलाशी लेने के बाद युवक यहां से चले गये। बाबूलाल ने तुरंत अपना झोला चैक किया तो उसमें नोटों की गड्डी नहीं मिली। वह चिमनगंज थाने पहुंचा और पुलिस को ठगी की सूचना देकर केस दर्ज कराया। पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे चैक किये हैं लेकिन युवकों ने हेलमेट और मास्क पहना था इस कारण उनकी शिनाख्त नहीं हो पाई है।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर