Thursday, February 2, 2023
Homeउज्जैन समाचारकार्तिक मेला हत्याकांड: आरोपी पुलिस हिरासत में

कार्तिक मेला हत्याकांड: आरोपी पुलिस हिरासत में

परिजन बोले…विवाद हुआ तो पुलिस ने हमें ही चौकी पर बैठा लिया

उज्जैन।रिश्तेदार के यहां जन्मदिन की पार्टी में आगर से आये युवक की बीती रात कार्तिक मेले में बदमाशों ने सीने में चाकू घोंपकर हत्या कर दी।

महाकाल पुलिस ने धारा 302 का केस दर्ज कर 8 संदिग्धों को हिरासत में लिया है और शव का पीएम कराया। इसके बाद परिजन शव को लेकर कार्तिक मेला ग्राउण्ड पहुंचे और वहां प्रदर्शन किया।

दीपू पिता लखन 20 वर्ष निवासी मास्टर कालोनी आगर सोमवार को बापू नगर में रहने वाले रिश्तेदार सुरेश सोनगरा के घर बच्चे के जन्मदिन में पार्टी में शामिल होने आया था। मंगलवार की रात रिश्तेदार आशीष, संजू व अन्य के साथ कार्तिक मेला देखने पहुंचा उनके साथ परिवार की महिलाएं भी थीं।

आशीष ने बताया कि मेले में झूला झूलते समय कुछ युवकों से विवाद हुआ था। झुला रुकने के बाद उन युवकों ने अपने अन्य साथियों को बुला लिया और दोनों पक्षों के बीच झूमा झटकी होने लगी। यहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने आशीष और संजू को पकड़कर मेले की पुलिस चौकी में बैठा लिया।

आशीष ने बताया कि जो युवक मारपीट कर रहे थे उन्हें पुलिस ने पकड़ा ही नहीं। इसी बीच पता चला कि अज्ञात बदमाश ने दीपू के सीने में चाकू घोंप दिया है।

उसे पुलिस के डायल100 वाहन में ही जिला अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टर ने दीपू को मृत घोषित कर दिया। टीआई मुनेंद्र गौतम ने बताया कि दोपहर तक मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

नाबालिग पर शंका

महाकाल पुलिस ने रात में ही जूना सोमवारिया क्षेत्र में रहने वाले 8 से अधिक युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है। यह सभी युवक मेले में झूला संचालित करने वाले परिवार से जुड़े हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि दीपू के सीने में नाबालिग ने चाकू मारा था।

पिता की पांच वर्ष पहले हो चुकी मौत…दीपू के रिश्तेदारों ने बताया कि उसके पिता लखन की 5 वर्ष पहले हार्टअटैक से मौत हो चुकी है। तीन भाई बहनों में वह बड़ा था। मंगलवार को मौसी के घर कार्यक्रम के बाद कार्तिक मेला घूमने का प्लान बना और वह साथ में मेले गया था।

जरूर पढ़ें

मोस्ट पॉपुलर